फ्रांस में कोरोना के नए स्ट्रेन से दहशत! पीएम जीन कैस्टेक्स ने किया लॉकडाउन का ऐलान

  • कोरोना के नए स्ट्रेन के बढ़ते खतरे को देख फ्रांस सरकार ने लगाया देश में लॉकडाउन
  • देश में शाम के 6 बजे से सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा कर्फ्यू

 

 

नई दिल्ली। दुनियाभर में कोरोना वायरस का संक्रमण पहले से कम जरूर हुआ है लेकिन कई देशों में कोरोना के नए स्ट्रेन ने तबाही मचा रखी है। सबसे पहले ब्रिटेन में इस नए स्ट्रेन के केस देखने को मिले इसके बाद दुनियाभर में इसका संक्रमण फैलने लगा।

फ्रांस में लगा लॉकडाउन

कोरोना के नए स्ट्रेन के बढ़ते खतरे और अस्पतालों में मरीजों के बढ़ती संख्या के मद्देनजर ब्रिटेन में लॉकडाउन लगा दिया गया था। अब इस महामारी के खतरे को देखते हुए फ्रांस सरकार ने भी लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है।

एमपी के 33 जिलों में कोरोना के नए स्ट्रेन की तलाश, ब्रिटेन से आए लोगों के लिए जा रहे सैम्पल

फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने देश को संबोधित करते हुए कहा, ‘देश में कोरोना के नए स्ट्रेन का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। ऐसे में इससे बचने के लिए लॉकडाउन लगाना आवश्यक है। वायरस के नए स्ट्रेन के खिलाफ हमें विशेष रूप से सतर्क रहने की जरूरत हैं। हमें अत्यधिक सावधानी बरतनी होगी।

शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा कर्फ्यू

कैस्टेक्स ने बताया देश में कर्फ्यू शाम के 6 बजे से सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा। इसके अलावा, सोमवार से यूरोपीय संघ के बाहर फ्रांस से आने वाले किसी भी व्यक्ति को देश में प्रवेश करने के लिए कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट देनी होगी और एक हफ्ते घर पर क्वारंटीन रहना होगा।बता दें इस लॉकडाउन के एक दिन पहले फ्रांस के शहरों, कस्बों और गांवों में को बाजार खाली करा दिया गया था ताकि कर्फ्यू का निरीक्षण किया जा सके।

खतरा: ब्रिटेन से बाहर निकला नया कोरोना वायरस, अब इन 5 देशों में भी फैला

70 हजार से अधिक लोगों की हो चुकी है मौत

बता दें फ्रांस कोरोना संक्रमण के मामले में दुनियाभर में 7वें स्थान पर है। यहां अबतक 28 लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 70 हजार से अधिक लोगों की वायरस की वजह से मौत हो चुकी है।

 

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned