हैती में शक्तिशाली भूकंप ने मचाई बड़ी तबाही, अब तक 1297 लोगों की मौत

भूकंप से पहले कोरोना वायरस से पीड़ित हैती के लोगों की परेशानी भी बढ़ गई है। देश गरीबी से जूझ रहा है।

नई दिल्ली। दक्षिणपश्चिम हैती में शनिवार को आए 7.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप में मरने वालों का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। हैती के नागरिक सुरक्षा सेवा प्रमुख जैरी चांडलर के अनुसार, भूकंप से अब तक 1297 लोगों की मौत हो चुकी है। इस दौरान कम से कम 2,800 लोग घायल हुए हैं। भूकंप की वजह से सैकड़ों घर ढह गए। इसके कारण लोग सड़कों पर आ गए हैं।

शनिवार को भूकंप आने के बाद कई शहर पूरी तरह से तबाह हो चुके हैं। भूस्खलन के बाद भूकंप ने लोगों को बुरी तरह प्रभावित किया है। भूकंप से पहले कोरोना वायरस से पीड़ित हैती के लोगों की परेशानी भी बढ़ गई है। देश गरीबी से जूझ रहा है।

ये भी पढ़ें: पाक के पूर्व सीनेटर का बयान, अफगानिस्तान में तालिबान की जीत से बहुत खुश होगा पाकिस्तान

अमरीका के भूगर्भीय सर्वेक्षण की ओर से कहा गया कि भूकंप का केंद्र राजधानी पोर्ट औ प्रिंस से करीब 125 किलोमीटर की दूरी पर था। अगले हफ्ते ये संकट और भी बढ़ सकता है। तूफान ग्रेस सोमवार या मंगलवार तक हैती पहुंच सकता है।

भूकंप के बाद दिनभर और रात तक झटके महसूस करे गए। बेघर हो चुके लोग, खुले में सड़कों पर रात बिताने पर मजबूर हैं।

प्रधानमंत्री एरियल हेनरी के अनुसार ऐसे स्थानों पर मदद भिजवाई गई है। जहां पर शहर तबाह हो चुके हैं और अस्पताल मरीजों से भर गए हैं। हैती की नागरिक सुरक्षा एजेंसी के निदेशक जैरी चांडलर का कहना है कि मृतक संख्या 304 है और सबसे ज्यादा लोग देश के दक्षिण में मारे गए हैं। एजेंसी के अनुसार अस्पतालों में घायलों को लाने का सिलसिला बना हुआ है। उन्होंने बताया कि कम से कम 860 घर पूरी तरह से नष्ट हो गए और 700 से अधिक क्षतिग्रस्त हो गए।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned