हौती विद्रोहियों ने करा सीजफायर का उल्लंघन, यमन सेना पर किया हमला

यमन के पोर्ट सिटी हुदिहा के स्थानीय लोगों ने बताया कि दोनों तरफ गन फायर और मिसाइल हमले की आवाजें सुनाई दीं

संयुक्त राष्ट्र। यमन में हौती विद्रोहियों ने सीज फायर का उल्लंघन करते हुए शनिवार को सऊदी अरब और यूएई की संयुक्त सेनाओं पर हमला बोल दिया है। स्वीडन शांति वार्ता के बाद यह पहली मौका होगा जब विद्रोहियों और सऊदी संयुक्त सेना के बीच दोबारा संघर्ष सामने आया है। यमन के पोर्ट सिटी हुदिहा के स्थानीय लोगों ने बताया कि शनिवार को दोनों तरफ गन फायर और मिसाइल हमले की आवाजें सुनाई दीं। गौरतलब है कि एक हफ्ते पहले स्वीडन में दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ था कि वह अब एक दूसरे से संघर्ष नहीं करेंगे।

दस हजार लोगों की मौत हो चुकी है

चार साल से चल रही इस लड़ाई को रोकने के लिए अमरीका ने अहम भूमिका निभाते हुए इस समझौते को कराने की कोशिश की थी। इसमें तय हुआ कि हौती विद्रोही यमन पोर्ट हुदिहा से अपनी सेनाएं वापस ले लेंगे। जोहानिसबर्ग में हुई इस बैठक में यमन सरकार के साथ हौती विद्रोही शामिल हुए थे। समझौते के लिए स्वीडन के विदेश मंत्री मार्गोट मालस्टॉर्म और अमरीका के प्रतिनिधि मार्टिन गिफ्थ ने हिस्सा लिया था। बैठक के दौरान मालस्टॉर्म ने दोनों पक्षों से कहा कि वह युद्ध को खत्म करें, जिसमें करीब दस हजार लोगों की मौत हो चुकी है। गिफ्थ ने कहा था कि दोनों तरफ से बंदियों को रिहा करा जाए। इसके साथ कहा गया कि कुछ ही दिनों में ही दोना सेनाएं से अपने आप पीछे हट जाएं। मगर इस वार्ता को नजरअंदाज पर हौती विद्रोहियों ने हमला दिया।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned