अमरीका और कनाडा में भीषण गर्मी का प्रकोप, अब तक सैकड़ों की मौत हुई

अकेले कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत में 486 लोगों की मौत होने की खबर है जिनमें से अधिकांश की मृत्यु का कारण गर्मी को माना जा रहा है। यहां पर कई जगहों का तापमान 49 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया है।

नई दिल्ली। भारत, कनाडा और अमरीका सहित दुनिया भर के कई देशों में भीषण गर्मी के चलते आम जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है। इंटरनेशनल मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत और अमरीका के वाशिंगटन और ओरेगन में गर्मी से अब तक सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि अकेले कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत में 486 लोगों की मौत होने की खबर है जिनमें से अधिकांश की मृत्यु का कारण गर्मी को माना जा रहा है। यहां पर कई जगहों का तापमान 49 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया है। वहीं दूसरी ओर, अमरीका के सिएटल, पोर्टलैंड व कई शहरों में गर्मी के रिकॉर्ड टूट गए हैं। अमरीका में भी कई जगहों पर पारा 46 डिग्री के पास पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें : सामयिक : हांगकांग का प्रयोग क्या ताइवान में दोहराया जाएगा ?

अमरीका के वाशिंगटन स्थित किंग काउंटी में लगभग एक दर्जन लोगों के हाइपरथर्मिया से मरने की खबर है। ओरेगन के मेडिकल परीक्षक के अनुसार अकेले इस राज्य में गर्मी के चलते अब तक 79 लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकतर मौतें मुल्टनोमा काउंटी में हुई है। कैलिफोर्निया में भी गर्मी के कारण लोगों का जीवनचर्या बिगड़ चुकी है। यहां पर पोर्टलैंड में एसी और कूलर की मांग एकदम से बढ़ जाने के कारण हालात यह हो गए हैं कि दुकानों में ढूंढने से भी नहीं मिल रहे हैं। मुल्टनोमा काउंटी में तापमान रिकॉर्ड 46 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। वहीं, भारत के उत्तरी राज्यों में मानसून के अटक जाने के बाद ज्यादातर जगह पारा 40 डिग्री के पार पहुंचा हुआ है।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रपति जिनपिंग की धमकी का क्या मतलब

ब्रिटिश कोलंबिया में गर्मी से लग रही है आग
कनाडा में लगातार तीसरे दिन पारा 49 डिग्री पार रहा। पश्चिमी कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया में भीषण गर्मी के कारण आग लगने की कई घटनाएं हुई हैं। इसके बाद फायर ब्रिगेड और रेस्क्यू टीम ने लगभग एक हजार लोगों को सुरक्षित जगह पर शिफ्ट किया है। ब्रिटिश कोलंबिया में 24 घंटों में आग लगने की 62 नई घटनाएं दर्ज की गई हैं।

कैलिफोर्निया में जला 19 हजार एकड़ जंगल
अमरीका के उत्तरी कैलिफोर्निया के सिस्कियौ काउंटी में वर्तमान में भीषण जंगल की आग 19,680 एकड़ में फैल गई है। लावा फायर जो 24 जून को बिजली गिरने से भड़की थी जो रिकॉर्ड गर्मी के बीच और फैल गई। 2,700 निवासियों वाले शहर, वीड से आग के कारण स्थानीय प्राधिकरण ने हजारों लोगों को निकालने के आदेश जारी किए हैं।

भारत के उत्तरी हिस्सों में तीखी गर्मी
मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी राज्यों पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तर-पश्चिमी राजस्थान, व उत्तर-पश्चिमी मध्यप्रदेश मानसून के ठहर जाने से प्रचंड लू की चपेट में हैं। ज्यादातर स्थानों पर पारा 40 डिग्री के पार चला गया है। आइएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र के अनुसार जुलाई के पहले सप्ताह में ज्यादा बारिश नहीं होगी। जुलाई के दूसरे सप्ताह के अंत में वर्षा की गतिविधि बढ़ सकती है।

बन रहे हैं लू के हालात
अंतरराष्ट्रीय मौसम केन्द्र के मुताबिक गर्म व शुष्क क्षेत्र में वायुमंडल में उच्च दबाव की स्थिति में तीन हजार से 7 हजार 600 मीटर की ऊंचाई पर हीट वेव बनती है। यह किसी भी क्षेत्र विशेष में कई दिन तक लगातार बनी रह सकती है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned