इमरान खान की तुलना गद्दाफी से की गई, यूएन में दिया सबसे लंबा भाषण

  • पिछले दस सालों की तुलना में 50 मिनट लंबा भाषण देकर नया रिकॉर्ड कायम किया
  • कर्नल गद्दाफी के यूएन में भाषण की बात करें तो उन्होंने 2009 में 96 मिनट का भाषण किया था

लाहौर। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के द्वारा बीते माह संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिया भाषण अब भी चर्चा का विषय बना हुआ है। अपने भाषण में युद्ध की धमकी और परमाणु युद्ध जैसी बातों को लेकर उन्होंने सबको चौंका दिया। इस भाषण ने नया रिकॉर्ड कायम किया है। इमरान खान की तुलना लीबिया के तानाशाह कर्नल गद्दाफी से हो रही है।

pmmodi1.jpg

दरअसल,संयुक्त राष्ट्र के द्वारा इस बार की UNGA (यूनाइटेड नेशन जनरल असेंबली) के आंकड़े साझा किए गए। इन आंकड़ों
में बताया गया है कि इस बार का सबसे लंबा भाषण पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान के द्वारा दिया गया। इमरान खान ने UN में कुल 50 मिनट तक का भाषण दिया था। यह एक रिकॉर्ड है। वहीं रवांडा की ओर से सबसे छोटे भाषण दिया गया। यह सिर्फ सात मिनट का था।

कर्नल गद्दाफी के यूएन मे भाषण की बात करें तो उन्होंने 2009 में 96 मिनट का भाषण किया था। 23 सितंबर, 2009 को कर्नल गद्दाफी ने 64वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया था। हालांकि,ये सबसे बड़ा भाषण नहीं है। संयुक्त राष्ट्र में सबसे बड़ा भाषण जेनुआ के राष्ट्रपति रहे सिकोयू तोरू का रहा है। 1960 में उन्होंने 144 मिनट लंबा भाषण दिया था।

पीएम मोदी ने दिया था बुद्ध का संदेश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस बार संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया। करीब 17 मिनट के भाषण में पीएम मोदी ने दुनिया को शांति का संदेश दिया। पीएम ने कहा था कि भारत ने दुनिया को युद्ध नहीं बल्कि बुद्ध दिया। पीएम मोदी ने हमेशा से शांति संदेश दिया है। पीएम मोदी के भाषण को लेकर हर तरफ तारीफ हुई थी।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned