ट्रंप ने इमरान खान को खाली हाथ लौटाया, कहा- कश्मीर पर मध्यस्थता करने के लिए भारत का सहमत होना जरूरी

ट्रंप ने इमरान खान को खाली हाथ लौटाया, कहा- कश्मीर पर मध्यस्थता करने के लिए भारत का सहमत होना जरूरी

  • अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि कश्मीर का हल दोनों देश बातचीत से निकालें
  • 74वें सत्र में हिस्सा लेने के लिए अमरीका पहुंचे हुए हैं इमरान खान

वाशिंगटन। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात की। इस दौरान ट्रंप ने दोबारा से भारत और पाकिस्तान के सामने कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्था की पेशकश की। हालांकि उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर भारत की सहमति होना जरूरी है। अकेले इमरान खान के सहमत होने से कुछ नहीं होगा।

ट्रंप ने कहा कि वह पाकिस्तान और इमरान पर भरोसा करते हैं। मगर इस मामले में भारत और पाकिस्तान दोनों को बातचीत से हल निकालना होगा। उन्होंने भारत को अपना सबसे अच्छा मित्र बताया। गौरतलब है कि इमरान खान संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 74वें सत्र में हिस्सा लेने के लिए अमरीका पहुंचे हुए हैं। यह 24 सितंबर से शुरू होगा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री 27 सितंबर को UNGA की बैठक को संबोधित भी करेंगे। दोनों नेताओं के बीच अहम मुद्दों पर बातचीत हो सकती है।

modi_trump.png

ट्रंप और इमरान की मुलाकात ऐसे वक्त में हो रही है जब एक दिन पहले ही ह्यूस्टन में आयोजित 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में पूरी दुनिया ने पीएम मोदी और ट्रंप की दोस्ती का जलवा देखा है। पीएम मोदी ने इस कार्यक्रम में पाकिस्तान की जमकर फजीहत की। उन्होंने मंच से कहा कि जो देश अपने को नहीं संभाल सकता वह दूसरे देश के बारे में कैसे सोच सकता है। इस मंच के जरिए उन्होंने कश्मीर के मुद्दे पर दखल देने के लिए पाकिस्तान पर निशाना साधा।

अमरीकी राष्ट्रपति भी जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के फैसले पर भारत के साथ हैं और वह इसे भारत का आंतरिक मुद्दा बता चुके हैं। ऐसे में अमरीका में भारत के पीएम का सम्मान और ट्रंप से उनके मजबूत रिश्ते पाकिस्तान के गले नहीं उतर रहे हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned