ब्रिटेन में एक हफ्ते के अंदर कोविड-19 के मरीज बढ़े , वैज्ञानिकों ने दोबारा से लॉकडाउन लगाने की दी सलाह

वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर यही रफ्तार रही तो अगस्त में हर रोज एक लाख मरीज आने की संभावना बनी हुई है।

लंदन। ब्रिटेन में एक बार फिर कोरोना वायरस (coronavirus) के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। वैज्ञानिकों ने इसे लेकर दोबारा अनलॉक (Unlock) के लिए पीएम बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) को चेतावनी दी है। साइंटिफिक एडवाइजरी ग्रुप फॉर इमर्जेंसीज (सेज) के अनुसार 8-14 जुलाई के बीच अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोरोना मरीजों (Coronavirus infected) की संख्या 38.4% तक पहुंच गई थी।

ये भी पढ़ें: अमरीका ने तालिबान के ठिकानों पर की एयर स्ट्राइक, आतंकी संगठन के अड्डों को किया तबाह

52 प्रतिशत कोरोना मरीज बढ़ गए हैं

वैज्ञानिकों का कहना है कि ‘अगर यही रफ्तार रही तो अगस्त में हर रोज एक लाख मरीज आने की संभावना बनी हुई है। ऐसे में पीएम जॉनसन तैयार रहें।' वैज्ञानिकों की राय के अनुसार इस स्थिति में दोबारा से लॉकडाउन लगाना पड़ सकता है। मास्क और अन्य कोरोना प्रतिबंध भी जरूर करने होंगे। बीते सात दिनों में ब्रिटेन में 41 प्रतिशत तथा अमरीका में 52 प्रतिशत कोरोना मरीज बढ़े हैं। इस तरह फ्रांस में 129 प्रतिशत और इंडोनेशिया में 24 प्रतिशत मरीज बढ़े। इटली में सात दिन में 19,390 यानी 116 प्रतिशत और जर्मनी में 9,541 यानी 66 प्रतिशत कोरोना मरीज बढ़े। इजराइल में यह आंकड़ा 6,909 यानी 90 प्रतिशत रहा है।

गौरतलब है कि ब्रिटेन में 19 जुलाई को पूरी तरह से अनलॉक करा गया था। यहां रविवार को 48 हजार मामले सामने थे। सरकार का कहना है कि अनलॉक इसलिए किया गया क्योंकि देश के 87 प्रतिशत वयस्कों को वैक्सीन की सिंगल डोज और 68 प्रतिशत को दोनों डोज लग चुकी है। अब ब्रिटेन में कानूनी रूप से मास्क पहनना भी जरूरी नहीं है। इस तरह की ढील को फ्रीडम-डे का नाम दिया गया है। नाइटक्लब 15 माह बाद पूरी क्षमता और बिना किसी प्रतिबंध के साथ खुले।

ये भी पढ़ें: Afghanistan: तालिबान ने 100 अफगानियों का किया कत्ल, अभी भी जमीन पर पड़े हैं शव

दुनियाभर में अब तक 19.27 करोड़ लोग संक्रमित मिले

दुनिया में अब तक 19.27 करोड़ से अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 41.41 लाख लोगों की मौत हो चुकी है वहीं 17.53 करोड़ से अधिक लोगों ने कोरोना को मात दे दी है। अभी भी 1.33 करोड़ लोगों का इलाज जारी है। इनमें 1.32 करोड़ लोगों में कोरोना के हल्के लक्षण देखे गए हैं। 81,182 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है।

COVID-19
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned