रेप कर अमरीका में छुपा था भारतीय शख्स, यूएस अधिकारियों ने जर्मनी वापस भेजा

रेप कर अमरीका में छुपा था भारतीय शख्स, यूएस अधिकारियों ने जर्मनी वापस भेजा

  • यूएस इमिग्रेशन एंड कस्टम्स इंफोर्समेंट (ICE) ने कहा है कि वह एक भारतीय शख्स को रेप के आरोप जर्मनी प्रत्यर्पित कर रहा है
  • तलवार उपनाम वाले इस भारतीय शख्स पर आरोप है कि वह एक जर्मन लड़के के साथ रेप कर अमरीका भाग आया था।

वाशिंगटन। यूएस इमिग्रेशन एंड कस्टम्स इंफोर्समेंट (ICE) ने एक बयान में कहा है कि वह एक भारतीय शख्स को रेप के आरोप जर्मनी प्रत्यर्पित कर रहा है। तलवार उपनाम वाले शख्स के पास अमरीका में रहने के लिए 6 अक्टूबर, 2019 तक वैध परमिट था।

जर्मनी भेजा गया भारतीय नागरिक

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि भारतीय नागरिक को जर्मनी में नाबालिग से बलात्कार के मामले में वांछित पाया गया था, और यह पता चला कि वह न्यूयॉर्क शहर में रह रहा था। जांच के बाद उसे पकड़कर जर्मनी में प्रत्यर्पित किया गया।

शरणार्थियों के हक में आया फैसला तो भड़के राष्ट्रपति ट्रंप, कहा- ले लिया कानून से पंगा

यूएस इमिग्रेशन एंड कस्टम्स इंफोर्समेंट ने एक बयान में कहा कि हालांकि इस शख्स के पास 6 अक्टूबर, 2019 तक अमरीका में रहने का परमिट था। लेकिन उनका वीजा राज्य विभाग द्वारा रद्द कर दिया गया था। 12 जून को, ICE के प्रवर्तन और निष्कासन विभाग ने इस मामले को संयुक्त आपराधिक विदेशी निष्कासन कार्यबल (JCART) को सौंपा। उसके बाद निर्वासन अधिकारियों ने अमरीकी मार्शलों की सहायता से रिचमंड हिल में भारतीय शख्स को गिरफ्तार कर लिया।

भारतीय नागरिक को पिछले हफ्ते जर्मनी में प्रत्यर्पित किया गया जहां उस पर उचित कानूनों के तहत मुकदमा चलाया जायेगा। इस घटना के बाद ICE ने कहा है कि हमारे अधिकारी हमारे देश के आव्रजन कानूनों को लागू करने और देश से अपराधियों को हटाने के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य करते हैं।

 

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned