India-China Tension: कनाडा में तिब्बतियों ने भारतीय सेना के समर्थन में लगाए नारे, कहा- 'Thank you Indian Army'

HIGHLIGHTS

  • कनाडा ( Canada ) में रहने वाले तिब्बती लोगों के एक समूह ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन ( Tibetans protest against China in Canada ) किया है और भारतीय सेना ( Indian Army ) का समर्थन किया है।
  • प्रदर्शन के दौरान लोग 'Tibet stands with India' (तिब्बत भारत के साथ है) और 'Thank you Indian Army' (धन्यवाद भारतीय सेना) जैसे नारे लगा रहे थे।

 

टोरंटो। भारत-चीन ( India China Tension ) के बीच हालिया घटनाक्रम से दोनों देशों में तनाव बढ़ता जा रहा है। इस बीच कनाडा से भारत के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है। दरअसल, कनाडा में रहने वाले तिब्बती लोगों के एक समूह ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन ( ( Tibetans protest against China in Canada ) किया है और भारतीय सेना का समर्थन किया है।

तिब्बतियों ने भारतीय सेना के समर्थन में जमकर नारेबाजी ( ( Tibetans Support Indian Army ) की और शुक्रिया भी कहा। तिब्बती यूथ कांग्रेस ( tibetan youth congress ) की ओर से टोरंटो में ये प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान लोगों ने तिब्बत को आजाद करने की मांग की और नारे भी लगाए गए।

59 Chinese App Ban: ‘रामायण’ की सीता Dipika Chikhlia बोलीं- ऐसे पड़ोसियों की मौजूदगी को मिटाना शुरू

तिब्बती प्रदर्शनकारी अपने हाथों में प्लेकार्ड और पोस्टर लिए हुए थे, जिसमें ''Thank you Indian Army' और 'Tibet stands with India' जैसे नारे लिखे हुए थे।

तिब्बत को आजाद करो के लगे नारे

आपको बता दें कि इस प्रदर्शन का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें दिखाई दे रहा है कि टोरंटो के क्षेत्रीय तिब्बती यूथ कांग्रेस चीनी वाणिज्य दूतावास के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान ये प्रदर्शनकारी 'Tibet stands with India' (तिब्बत भारत के साथ है) और 'Thank you Indian Army' (धन्यवाद भारतीय सेना) जैसे नारे भी लगा रहे हैं।

इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने चीन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए 'Free Tibet' (तिब्बत को आजाद करो) जैसे नारे भी लगाए। कोरोना वायरस के कारण कनाडा में कई तरह के प्रतिबंध है, लिहाजा हजारों की संख्या में लोग जमा नहीं हुए, लेकि फिर भी इस प्रदर्शन में काफी लोगों ने हिस्सा लिया और चीन के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराते हुए भारत के समर्थन में नारे लगाए।

China को मिलेगा करारा जवाब, भारत ने लद्दाख सीमा पर तैनात किए Air Defence मिसाइल सिस्टम

मालूम हो कि कनाडा में तिब्बत की आजादी चाहने वाले लोगों ने अपना एक राजनैतिक समूह बना रखा है। 'तिब्बती यूथ कांग्रेस' ने अपने इस प्रदर्शन की गूंज बीजिंग और वाशिंगटन तक पहुंचा दिया है। इससे पहले अमरीका, फ्रांस और ब्रिटेन जैसे कई देशों ने भारत के समर्थन में आवाज उठाई है।

भारत-चीन सेना में हिंसक झड़प

गौरतलब है कि भारत और चीनी सैनिकों ( Chinese Army ) के बीच बीते 15 जून को पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी ( Galwan Valley ) के पास हिंसक झड़प हुई थी। इस हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हुए थे, जबकि चीन के 40 से अधिक सैनिक मारे गए थे। हालांकि अभी तक चीन ने ये स्वीकार तो किया है कि उनके भी कर्नल समेत सैनिक हताहत हुए हैं, लेकिन यह नहीं बताया है कि कितने सैनिक मारे गए हैं।

इधर भारतीय जवानों के शहीद होने पर अमरीका ( America ), फ्रांस ( France ) और ब्रिटेन ( Britain ) जैसे कई देशों ने अपनी संवेदनाएं प्रकट की और उम्मीद जताया कि जल्द दोनों देश आपसी विवाद को निपटा लेंगे।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned