न्यूजीलैंड: आतंकी हमले के बाद दहशत में लोग, पीएम ने कहा- देश का सबसे काला दिन

न्यूजीलैंड: आतंकी हमले के बाद दहशत में लोग, पीएम ने कहा- देश का सबसे काला दिन

Mohit Saxena | Publish: Mar, 15 2019 12:34:29 PM (IST) | Updated: Mar, 15 2019 04:47:23 PM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

- हमले में सबसे अधिक प्रवासी समुदाय के लोग घायल हुए
- दावा किया जा रहा है कि 40 लोगों की मौत हो गई है
- आतंकी हमले पर न्यूजीलैंड के पीएम ने दुख जताया है

क्राइस्टचर्च। न्यूजीलैंड में आतंकी हमले को लेकर पीएम जेसिन अर्डन ने गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने इसे देश का काला दिन बताया है। गौरतलब है कि न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में अज्ञात हमलावरों की गोलीबारी में कई लोग मारे गए हैं।यहां की सरकार ने 49 लोगों के मारे जाने और 20 लोगों के घायल होने की अधिकारिक पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि गोलीबारी से कुछ देर पहले ही बांग्लादेश की क्रिकेट टीम मस्जिद में मौजूद थी, लेकिन वह सुरक्षित बच निकलने में कामयाब रही। गोलीबारी के सिलसिले में चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। न्यूजीलैंड की पीएम ने कहा कि यह हमला अप्रत्याशित था। अभी तक इस हमले के उद्देश्य का पता नहीं चल सका है। उन्होंने कहा कि इस आतंकी हमलों में ज्यादातर लोग प्रवासी समुदाय से हैं।

 

मस्जिद में घुसकर ताबड़तोड़ फारयिंग

गौरतलब है कि शुक्रवार को क्राइस्टचर्च की अल नूर मस्जिद के पास भीषण गोलीबारी हुई हैं। बताया जा रहा है कि संदिग्ध हमलावरों ने मस्जिद में घुसकर ताबड़तोड़ फारयिंग की।अभी पुलिस इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या हमलावरों की संख्या एक ही है या एक से अधिक। पुलिस कमिश्नर का कहना है कि मस्जिद के पास कारों पर कई बम लगाए गए थे। कुछ हमलावरों को स्थानीय पुलिस ने पकड़ लिया है। इनमें तीन पुरुष और एक महिला शामिल है। कमिश्नर माइक बुश ने भी इस बात की पुष्टि की है कि चार लोग हिरासत में लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमला जिस तरह से हुआ है उसे आतंकी हमला मान सकते हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned