North Korea ने असैन्य क्षेत्र में सेना को तैनात करने की योजना बनाई, दक्षिण कोरिया ने दी चेतावनी

Highlights

  • किम जोंग-उन (Kim jong Un) की बहन किम यो जोंग ने दक्षिण कोरिया (South Korea) के विशेष दूत को भेजने के प्रस्ताव खारिज किया।
  • माउंट कुमगांग और कासोंग औद्योगिक परिसर में सेना को तैनात करने की तैयारी।

सियोल। उत्तर कोरिया (North Korea) ने कहा कि वह सैन्य इकाइयों को माउंट कुमगांग और कासोंग औद्योगिक परिसर में तैनात करेगा, जो एक डिमिलेट्राइज जोन (Demilitarized zone) है। उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन की बहन किम यो जोंग ने बुधवार को विशेष दूत भेजने के दक्षिण कोरिया के प्रस्ताव को भी अस्वीकार कर दिया। इस पर दक्षिण कोरिया (South Korea) ने कहा कि वह उत्तर कोरिया की सैन्य गतिविधियों की बारीकी से निगरानी कर रहा है। दक्षिण कोरिया ने कहा कि अगर उत्तर कोरिया सैन्य कार्रवाई की योजनाओं को अंजाम देते है तो उसे इसकी कीमत भुगतनी होगी।

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया की सीमा से लगे संयुक्‍त औद्योगिक कॉम्‍प्‍लेक्‍स में बने संपर्क कार्यालय को तबाह कर दिया है। मंगलवार को दक्षिण कोरियाई प्रतिनिधियों ने कहा कि वे किम जोंग-उन की हरकतों का 'सख्ती' से जवाब देंगे। दक्षिण कोरिया के उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार किम यू-जॉन ने दावा किया कि उत्तर कोरया की इस कार्रवाई से वे सभी लोग निराश होंगे जो अंतर-कोरियाई संबंधों के विकास और शांति की आशा रखते हैं।

उन्होंने आगे कहा, इस हरकत के लिए उत्तर कोरिया पूरी तरह से जिम्मेवार है। बीते कुछ हफ्तों में उत्तर कोरिया ने लगातार अपने पड़ोसी देश दक्षिण कोरिया पर बेबुनियाद आरोप लगाए है।

दोनों देशों के बीच तनाव की वजह

उत्तर कोरिया से विद्रोह कर भागे विद्रोहियों को दक्षिण कोरिया में शरण मिल गई है। उत्तर कोरिया से भाग कर आये इन लोगों में डरे हुए सामान्य नागरिक भी हैं। इन लोगों को पड़ोसी देश में शरण मिल गई, जिसके कारण तानाशाह किम जोंग उन नाराज है।

Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned