नॉर्वे: कोरोना नियम तोड़ने पर पीएम एर्ना सोलबर्ग पर लगा 1.75 लाख रुपये का जुर्माना

कोरोना नियम तोड़ने को लेकर नॉर्वे के प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग पर 1.75 लाख का जुर्माना लगाया गया है।

ओस्लो। कोरोना महामारी के प्रकोप से पूरी दुनिया जूझ रही है और एक बार फिर से कोरोना के रफ्तार ने चिंताएं बढ़ा दी है। लिहाजा, दुनियाभर के तमाम देशों में एतियात के तौर पर लॉकडाउन लगाया जा रहा है या फिर अन्य सख्त पाबंदियों को लागू किया जा रहा है।

इसी कड़ी में नॉर्वे कोरोना महामारी के खात्मे को लेकर कितन संजीदा है इसका एक बड़ा उदाहरण देखने को मिला है। नॉर्वे कोरोना नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्ती से निपट रहा है। दरअसल, कोरोना नियम तोड़ने को लेकर नॉर्वे के प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग पर जुर्माना लगाया गया है। एर्ना ने सोशल डिस्टेंसिंग के नियम को तोड़ा था, जिसके लिए अब नॉर्वे पुलिस ने उनपर 1.75 लाख का जुर्माना लगाया है।

यह भी पढ़ें :- Corona Effect: दिल्ली के स्कूलों में चल रही सभी कक्षाएं अगले आदेश तक बंद, सीएम केजरीवाल ने की घोषणा

नॉर्वे पुलिस ने शुक्रवार जानकारी देते हुए बताया है कि प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग ने फरवरी में अपना 60वां बर्थडे मनाने के लिए 13 परिजनों के साथ पार्टी की थी। जबकि कोरोना नियम के तहत एक जगह पर 10 से अधिक लोगों के इक्ट्ठा होने पर प्रतिबंध है।

ऐसे में अब पीएम एर्ना सोलबर्ग पर 20 हजार नॉर्वे क्राउन्स (करीब 1,75,456 रुपये) का जुर्माना लगाया गया है। बता दें कि पिछले महीने माउंटेन रिजॉर्ट पर आयोजित इस पार्टी के लिए प्रधानमंत्री एर्ना ने माफी भी मांगी है।

erna.jpg

सबके लिए समान है कानून: पुलिस

नॉर्वे की पुलिस ने कहा कि वह अधिकतर ऐसे मामलों में जुर्माना नहीं लेती है, लेकिन सरकारी पाबंदियों को लागू करने में प्रधानमंत्री खुद सरकार के लिए एक प्रमुख चेहरा हैं। ऐसे में उनपर जुर्माना लगाना सही है। पीएम पर जुर्माना लगाए जाने को लेकर पुलिस चीफ ओले सेवरुड ने कार्रवाई को सही ठहराते हुए कहा, 'कानून सबके लिए समान है, लेकिन कानून के सामने सभी समान नहीं हैं'।

उन्होंने कहा कि आम जनता में सामाजिक पाबंदियों के प्रति विश्वास बहाली के लिए इस तरह का जुर्माना लगाना सही है। पुलिस के अनुसार, पीएम एर्ना सोल्बर्ग ने अपने पति सिंड्रे फाइंस के साथ मिलकर पार्टी आयोजित करने का फैसला किया था। इस पूरी पार्टा का इंतजाम फाइंस ही देख रहे थे।

यह भी पढ़ें :- Corona Effect: महाराष्ट्र ने 9-11वीं के छात्रों को किया प्रमोट, ओडिशा ने स्कूलों में बंद की कक्षाएं

पुलिस ने कहा कि फाइंस और रेस्टोरेंट ने कोरोना नियमों का उल्लंघन किया, लेकिन उन पर जुर्माना नहीं लगाया गया है। सेवरुड ने कहा, चूंकि 'सोल्बर्ग देश की नेता हैं और कोरोना के खिलाफ लड़ाई में वह पाबंदियों को लागू करवाने के लिए नेतृत्व कर रही हैं, इसलिए उनपर जुर्माना लगाया गया है।

बता दें कि नॉर्वे में अब तक कोरोना संक्रमण से 1,01,960 लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 684 लोगों की मौत हुई है। पूरी दुनिया की बात करें तो अब तक 13,40,38,180 संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 29,04,554 लोगों की मौत हो चुकी है।

कोरोना वायरस
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned