अब Pakistan के पूर्व डिप्लोमैट ने माना, बालाकोट एयर स्ट्राइक में मारे गए थे 300 आतंकी

  • पीएमएल नवाज के नेता अयाज सादिक ने दो माह पूर्व किया था इसी तरह का दावा।
  • इमरान सरकार ने भारतीय हमले के डर से अभिनंदन को रिहा किया था।

नई दिल्ली। करीब दो साल बाद पाकिस्तान के एक पूर्व डिप्लोमैट आगा हिलाली ने इस बात को माना है कि 26 फरवरी, 2019 को बालाकोट में भारतीय एयर स्ट्राइक में लगभग 300 आतंकवादी मारे गए थे। एक टीवी डिबेट में पूर्व राजनयिक का यह कबूलनामा इमरान सरकार के उस दावे के उलट है जिसमें एयर स्ट्राइक में किसी तरह के नुकसान से इनकार किया गया था।

बालाकोट एयरस्ट्राइक: साल भर बीतने के बाद भी बाज नहीं आ रहा पाकिस्तान, दुष्प्रचार की करेगा नुमाइश

कांप रहे थे सेना प्रमुख बाजवा के पांव

पाक के पूर्व राजनयिक ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज के नेता अयाज सादिक के कमेंट के महीनों बाद यह खुलासा किया है। सादिक ने अक्टूबर 2020 में पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कहा था कि विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक महत्वपूर्ण बैठक में कहा था कि यदि पाकिस्तान के विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा नहीं किया तो भारत उस रात 9 बजे पाकिस्तान पर हमला कर देगा। उन्होंने यह भी स्वीकारा था कि उस समय पाकिस्तान के सेना प्रमुख क़मर जावेद बाजवा के पैर कांप रहे थे।

बता दें कि बालाकोट एयर स्ट्राइक पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद की गई थी। पुलवामा में हुए हमलें में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे। पाकिस्तान स्थित आतंकी संगटन जैश-ए-मोहम्मद ने 14 फरवरी के इस हमले की जिम्मेदारी ली, जिसकी अंतर्राष्ट्रीय समुदाय ने निंदा की थी।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned