लंदन NATO सम्मेलन में भाग लेंगे पोम्पियो, जिम्मेदारी साझा करने के लिए सहयोगियों पर दबाव डालेगा अमरीका

  • नाटो सदस्यों के नेता अगले सप्ताह लंदन में गठबंधन की 70वीं वर्षगांठ मनाने के लिए इकट्ठा होंगे
  • अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 3-4 दिसंबर को नाटो नेताओं की बैठक में भाग लेंगे

वाशिंगटन। उत्तर अटलांटिक संधि संगठन ( NATO ) के विकास और भविष्य को लेकर लगातार चर्चाएं और विचार विमर्श होता रहा है। इसी क्रम में लंदन में होने वाले आगामी शिखर सम्मेलन के दौरान अमरीका जिम्मेदारी व दायित्वों के साझाकरण, सुरक्षा और रक्षा सहयोग के साथ-साथ नाटो के भविष्य के विकास की प्रगति पर प्रकाश डालेगा।

अमरीकी विदेश विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि लंदन में होने वाले आगामी शिखर सम्मेलन में नाटो के भविष्य और उसके विकास पर गहन चर्चा की जाएगी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अमरीकी विदेश विभाग ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 3-4 दिसंबर को नाटो नेताओं की बैठक में भाग लेने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में अमरीकी प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे।

लंदन में मनाया जाएगा नाटो की 70वीं वर्षगांठ

नाटो सदस्यों के नेता अगले सप्ताह लंदन में गठबंधन की 70वीं वर्षगांठ मनाने के लिए इकट्ठा होंगे। यह सम्मेलन ऐसे समय हो रहा है जब नाटो की एकता पर बड़े पैमाने पर सवाल उठ रहे हैं।

ट्रंप प्रशासन ने नाटो सहयोगियों पर अमरीकी सेना के जरिए अपना मतलब निकालने के बारे में कई बार शिकायत की है। इसके अलावा, ईरान परमाणु मुद्दे पर भी गठबंधन के भीतर मतभेद हैं, उत्तरी सीरिया में तुर्की के अभियान के साथ-साथ जर्मनी और रूस के बीच नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन परियोजना को लेकर भी मतभेद हैं।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned