हांगकांग: लोकतंत्र समर्थकों ने निकाला मार्च, पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े

  • प्रदर्शनकारी हाल में दो कार्यकर्ताओं पर चाकू से हमले और पिटाई से नाराज थे
  • यह कदम जनसुरक्षा और पहले कट्टर कार्यकर्ताओं द्वारा की गई हिंसक घटनाओं के मद्देनजर उठाया गया था

हांगकांग। हांगकांग में बिना अनुमति मार्च निकाल रहे लोकतंत्र समर्थकों और कट्टर प्रदर्शनकारियों को काबू में लाने के लिए पुलिस ने रविवार को पानी की बौछार एवं आंसू गैस के गोले छोड़े। गौरतलब है कि प्रदर्शनकारी हाल में दो कार्यकर्ताओं पर चाकू से हमले और पिटाई से नाराज थे।

प्रशासन ने कुछ जिलों में प्रदर्शन करने पर रोक लगाई थी। यह कदम जनसुरक्षा और पहले कट्टर कार्यकर्ताओं द्वारा की गई हिंसक घटनाओं के मद्देनजर उठाया गया था, लेकिन इसके बावजूद हजारों लोग प्रदर्शन में शामिल हुए।

प्रशासन और प्रदर्शनकारियों के बीच तनाव बढ़ने का कारण था समूह के नेता पर जानलेवा हमला। नेता जिमी शाम पर बुधवार को कुछ लोगों ने हथौड़ों और चाकू से हमला किया। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

शनिवार रात को भी लोकतंत्र समर्थकों को पर्चे बांट रहे एक व्यक्ति के गले और पेट पर चाकू से हमला किया गया। इससे कभी भी इस तरह की हिंसा नहीं देखने को मिली है। प्रदर्शनकारियों की ओर से पुलिस और सबवे के प्रवेश द्वार पर पेट्रोल बम फेंकने एवं चीन की बैंक शाखाओं और दुकानों पर हमले के बाद अराजक स्थिति पैदा हो गई।

Mohit Saxena
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned