पत्नी की बहन के जन्मदिन पर इस देश के राष्ट्रपति ने किये थे लाखों खर्च, अब पत्नी ने ही कराया तख्तापलट

पत्नी की बहन के जन्मदिन पर इस देश के राष्ट्रपति ने किये थे लाखों खर्च, अब पत्नी ने ही कराया तख्तापलट

Ravi Gupta | Updated: 18 Nov 2017, 04:33:09 PM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

ग्रेस कभी राष्ट्रपति कार्यालय में सचिव हुआ करती थीं। शादीशुदा मुगाबे से उनका अफेयर हुआ जिसका नतीजा शादी के रूप में सामने आया।

हरारे। अफ्रीकी देश जिम्बाब्वे में सेना ने गत बुधवार तड़के सत्ता पर कब्जा कर लिया। सेना का कहना है कि जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे और उनकी पत्नी को हिरासत में ले लिया है। सेना ने बताया कि मुगाबे और उनका परिवार पूरी तरह सुरक्षित है। हालांकि, सेना के चीफ ऑफ स्टॉफ लॉजिस्टिक्स मेजर जनरल एसबी मोयो ने कहा कि हम केवल मुगाबे के आसपास के अपराधियों को निशाने पर ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह सैन्य तख्तापलट नहीं है। हमारा मिशन पूरा होने पर सामान्य स्थिति बहाल होने की उम्मीद है।

37 सालों से सत्ता में, पत्नी को बनाने वाले थे उत्तराधिकारी-
ब्रिटेन से आजादी मिलने के बाद 93 वर्षीय मुगाबे 37 वर्षों से जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति हैं। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि सैन्य तख्तापलट जैसी कार्रवाई के बाद औपचारिक तौर पर उनके शासन का अंत होगा। सेना का मुख्य मकसद उनकी पत्नी 52 वर्षीय ग्रेस को उनका उत्तराधिकारी बनने से रोकना है।

Grace Mugabe

यह थे सेना से तनातनी के कारण-
सेना प्रमुख जनरल चिवेंगा ने बर्खास्त उपराष्ट्रपति के समर्थकों के खिलाफ कार्रवाई खत्म करने के लिए दखल देने की चेतावनी दी थी। सेना ने मानागागवा की बर्खास्तगी स्वीकारने से मना कर दिया था। इसके बाद मुगाबे की अध्यक्षता में मंगलवार को कैबिनेट ने उन पर विश्वास जताया और चिवेंगा पर देशद्रोह का आरोप लगा दिया था।

जिम्बाब्वे के तख्तापलट की पूरी कहानी-
जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति भले री रॉबर्ट मुगाबे रहे हों लेकिन सत्ता का असली केंद्र उनकी पत्नी और देश की प्रथम महिला ग्रेस मुगाबे ही थी। दरअसल सारे फसाद की जड़ यहीं से शुरू होती है। बूढ़े हो चुके मुगाबे उन्हें सत्ता सौंपने की तैयारी में थे। अब सेना के हस्तक्षेप से खेल बिगड़ता दिख रहा है।

Grace Mugabe

कौन हैं ग्रेस-
ग्रेस कभी राष्ट्रपति कार्यालय में सचिव हुआ करती थीं। शादीशुदा मुगाबे से उनका अफेयर हुआ जिसका नतीजा शादी के रूप में सामने आया। मुगाबे की पहली पत्नी किडनी की बीमारी के 1992 दुनिया छोड़कर जा चुकी हैं। ग्रेस से मुगाबे के दो बच्चे हैं। पिछले कुछ सालों से ग्रेस का रसूख सत्ता के गलियारों में बढ़ा। हाल ही में दिए एक बयान में अपनी मंशा जिहर करते हुए उन्होंने कहा कि अगले चुनाव से पहले अगर उनके बीमार पति की मौत हो जाती है तो वो लाश के साथ चुनाव में उतरेंगी।

ग्रेस पर लगा है हमले का आरोप-
प्रथम महिला पर हाल ही में जोहानसबर्ग में एक मॉडल पर हमले का आरोप लगा था। इसके अलावा हांगकांग में फोटो खींच रहे फोटो जर्नलिस्ट पर वे टूट पड़ीं थी। सत्ताधारी पार्टी में पति के उत्तराधिकारी के रूप में उनकी स्वीकार्यता बनी, लेकिन अन्य दलों का समर्थन उनके लिए नहीं था, क्योंकि ज्यादातर उन्हें राष्ट्रपति के पद लायक नहीं समझते।

Grace Mugabe and  Robert Mugabe

शाही जिंदगी-
52 साल की ग्रेस अपने पति से 41 साल छोटी हैं और आलीशान जिंदगी जीने के लिए जानी जाती हैं। दिल खोलकर पसंद की चीजों पर खर्च करती हैं। देश में उनके शाही खर्च के चर्चे होते हैं। पिछले ही महीने एक लेबनानी ने 10 लाख डॉलर वसूलने के लिए उन्होंने अदालत की शरण ली। उन्होंने इस व्यक्ति से 100 कैरेट की एक हीरे की अंगूठी ली थी। दुबई और दक्षिण अफ्रीका में आलीशान घर हैं। अपनी बेटी की शादी में 30 लाख पौंड सरकारी खजाने से खर्च किया गया। हाल ही में तीन लाख पौंड कीमत की रॉल्स रॉयल खरीदी।

राष्ट्रपति ने पत्नी की बहन के जन्मदिन पर उड़ाए थे 40 लाख-
गरीबी से जूझ रहे जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति राबर्ट मुगाबे ने अपनी पत्नी की बहन जूनियर गम्बोचुमा के जन्मदिन पर 60 हजार डॉलर (करीब 40 लाख रुपये) उड़ा दिए।
उन्होंने यह फिजूलखर्ची ऐसे समय की जब उनका देश नकदी की भारी किल्लत से जूझ रहा है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned