अमरीका में शूटिंग की बढ़ती घटनाओं के बीच स्मार्टफोन गन का उत्पादन शुरू

अमरीका में शूटिंग की बढ़ती घटनाओं के बीच स्मार्टफोन गन का उत्पादन शुरू

कंपनी को उत्पादन शुरू करने से पहले करीब 12 हजार गन बनाने का आॅर्डर मिला।

वॉशिंगटन। अमरीका में स्मार्टफोन जैसी दिखने वाली बंदूकों का उत्पादन शुरु किया गया है। शूटिंग की बढ़ती घटनाओं के बीच कंपनी का यह कदम विवादों में है। इस गन की लॉन्चिंग होनी थी, लेकिन यह किन्ही कारणों से टल गई थी। अब कंपनी को उत्पादन शुरू करने से पहले करीब 12 हजार गन बनाने का आॅर्डर मिला है। आम लोगों के बीच इस बंदूक का डिजाइन काफी पसंद किया जा रहा है। जल्द ही कंपनी इसके उत्पदान को दोगुना कर सकती है।

आईफोन से आधी कीमत

डिजाइन में स्मार्टफोन जैसी दिखने वाली आईफोन गन चर्चा में है। हालांकि, इसकी कीमत असल आईफोन एक्स की कीमत 68 हजार रुपए के मुकाबले सिर्फ आधी यानी करीब 34 हजार रुपए है। अमेरिका की विवादास्पद गैर लाभकारी संस्था 'नेशनल राइफल एसोसिएशन' भी इस स्मार्टफोन गन का प्रचार कर रही है। संस्था ने मई के अपने मैगजीन एडिशन में इसे फीचर्ड प्रोडक्ट में जगह दी है। साथ ही आत्मरक्षा के लिहाज से भी इसे पिस्तौल और रिवॉल्वर का बेहतरीन विकल्प बताया गया है।

छोटी फोल्डिंग हैंडगन

बंदूक को एक छोटी फोल्डिंग हैंडगन की तरह बनाया गया है, जिसकी नली को आसानी से फोल्ड किया जा सकता है। इसकी मैगजीन को भी मोड़ा जा सकता है, जिससे ये एक स्मार्टफोन का रूप ले लेती है। इसे आसानी से जेब में रख सकते हैं और किसी को इसके बंदूक होने का शक नहीं होता। हैंडगन खुलते ही एक बार में दो गोलियां फायर कर सकती है। बेहतर निशाने के लिए इसे लेजर के साथ भी इस्तेमाल किया जा सकता है। अमेरिका के करीब 89 फीसद लोग अपने पास हथियार रखते हैं। 66 फीसद लोगों के पास एक से ज्यादा गन है। दुनियाभर में आम लोगों के पास जितनी बंदूकें हैं, उनमें से 48 फीसद सिर्फ अमेरिकियों के पास हैं।अमरीकी अर्थव्यवस्था में हथियारों की बिक्री से 90 हजार करोड़ रुपए आते हैं। यहां हर साल एक करोड़ से ज्यादा रिवॉल्वर, पिस्टल जैसे हथियार बनते हैं। बीते करीब 50 सालों में अमेरिका में हथियारों ने 15 लाख से ज्यादा जान ले लीं।

Ad Block is Banned