स्पेन: कोरोना से अब तक 28 हजार से अधिक की मौत, पीएम पेड्रो सांचेज ने 10 दिन के राष्ट्रीय शोक का किया ऐलान

HIGHLIGHTS

  • स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ( Prime Minister Pedro Sanchez ) ने COVID-19 महामारी के पीड़ितों के लिए 10 दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की
  • सांचेज ने कहा, 'अगले मंगलवार यानी 26 मई से जब पूरा देश चरण 1 में है, सरकार 10 दिनों के आधिकारिक शोक की घोषणा करेगी, यह हमारे लोकतंत्र के इतिहास में सबसे लंबा है

मैड्रिड। पूरी दुनिया में कोरोना संकट ( Coronavirus ) के कारण कोहराम मचा है और इससे अब तक 3.42 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। कई देशों में मरने वालों की प्रति संवेदना व्यक्त करने के लिए कुछ कार्यक्रम किए जा रहे हैं।

इसी बीच स्पेन ( Spain ) ने भी कोरोना वायरस के कारण जान गंवा चुके लोगों के लिए 10 दिन का राष्ट्रीय शोक ( national mourning ) घोषित किया है। स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ( Prime Minister Pedro Sanchez ) ने COVID-19 महामारी के पीड़ितों के लिए 10 दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की।

स्पेन में Coronavirus का कहर, 120 मौत के बाद देश में आपातकाल घोषित

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम पेड्रो ने शनिवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में टीवी प्रसारण के जरिए ये घोषणा की। सांचेज ने कहा, 'अगले मंगलवार यानी 26 मई से जब पूरा देश चरण 1 में है, सरकार 10 दिनों के आधिकारिक शोक की घोषणा करेगी। यह हमारे लोकतंत्र के इतिहास में सबसे लंबा है।

बता दें कि स्पेन में कोरोना वायरस के कारण 28,600 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। वहीं 2.35 लाख लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं।

प्रतिबंधों में सोमवार से थोड़ी छूट

प्रधानमंत्री सांचेज ने आगे कहा कि राष्ट्रीय शोक ( national mourning ) के दौरान सभी सार्वजनिक भवनों और सभी नौसैनिक जहाजों पर झंडे आधे-मस्तूल में रहेंगे और जब स्केल-डाउन खत्म हो जाएगा, तो राज्य के प्रमुख पीड़ितों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे।

सांचेज ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों में से कुछ को सहज कर दिया है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सोमवार से हर कोई 'अपने परिवारों और दोस्तों को देख सकेगा, जो एक ही प्रांत में रहते हैं.. दुकानें फिर से खुलेंगी और सड़कों फिर से सामान्य हो जाएंगी'।

स्पेन के गोलकीपर डेविड ने PM सांचेज से सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की बात कही

हालांकि, उन्होंने इस बात पर जोर देकर कहा कि महामारी खत्म नहीं हुई है। 'हम जीत से एक कदम दूर हैं, लेकिन वायरस गायब नहीं हुआ है, हमें इसे खुद से थोड़ी दूरी पर रखना होगा.. हम अभी भी एक स्वास्थ्य आपातकाल में हैं। यदि हम हालात सही बनाए रखने में विफल रहते हैं तो नए मामलों में वृद्धि हो सकती है।'

कोरोना वायरस
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned