नोबेल विजेता मलाला को तालिबान ने दी जान से मारने की धमकी, Twitter ने एकाउंट किया डिलीट

 

  • मलाला युसुफजई ने इमरान सरकार की नीयत पर उठाए सवाल।
  • 2020 में पाक खुफिया एजेंसी की कैद से मलाला का हमलावर हुआ था फरार।

नई दिल्ली। पाकिस्तानी मूल की नागरिक और नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसुफजई को एक बार फिर तालीबान आतंकियों ने ट्विट के जरिए जान से मारने की धमकी दी है। तालिबानी आतंकियों ने अपने ट्वीट में लिखा है इस बार कोई गलती नहीं होगी। ट्विटर ने तालीबार के उक्त ट्विटर एकाउंट को स्थायी रूप से हटा दिया है। बता दें कि नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसुफजई पर 9 साल पहले तालिबानी आतंकियों ने हमला बोला था।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के सलाहकार राउफ हसन ने कहा कि सरकार इस धमकी की जांच करा रही है। जानकारी मिलने के तत्काल बाद ट्विटर से संबंधित अकाउंट को बंद करने को कहा गया था।

मलाला ने इमरान सरकार पर उठाए सवाल

जानकारी के मुताबिक इस धमकी के बाद मलाला यूसुफजई ने खुद ट्वीट करके जानकारी दी और पाकिस्तान की सेना और प्रधानमंत्री इमरान खान से पूछा कि उन पर हमला करने वाला एहसानुल्लाह एहसान कैसे सरकारी हिरासत से फरार हो गया।

एहसानुल्लाह एहसान को 2017 में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन जनवरी 2020 में एक तथाकथित सुरक्षित पनाहगाह से वो फरार हो गया था। जबकि आतंकी एहसान पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी की कैद में था।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned