अमरीकी Defence System को मात देगा ये रूसी हथियार, जंगी बेड़े में शामिल किया

Highlights

  • Avangard हाइपरसोनिक ग्लाइड व्हीकल है, अमरीका का एयर डिफेंस बेकार साबित होगा।
  • बीते साल रूस के रक्षा मंत्री सर्जेई शोइगू ने इस हथियार की पुष्टि की थी।

मॉस्को। अमरीका (America) के पास दुनिया का सबसे ताकतवर डिफेंस सिस्टम (Defence system) है। मगर रूस (Russia) ने इस डिफेंस सिस्टम को पछाड़ने के लिए एक ऐसा हथियार तैयार कर लिया है जो इसे पकड़ नहीं सकता। रूस के पास है Avangard हाइपरसोनिक ग्लाइड व्हीकल है। देश का पहला स्ट्रैटिजिक मिसाइल फोर्स रेजिमेंट परमाणु क्षमता वाले इस व्हीकल को जंगी बेड़े में शामिल कर लिया गया है।

चीनी मीडिया के अनुसार इस व्हीकल की स्ट्राइक स्पीड और इंटरसेप्शन से बचने की ताकत काफी अधिक है। Avangard के जरिए रूस अमरीका को संदेश देना चाहता है। रूस की मिसाइलों के सामने अमरीका का एयर डिफेंस बेकार साबित होगा।

बीते वर्ष शामिल किया गया

बीते साल रूस के रक्षा मंत्री सर्जेई शोइगू ने इस हथियार की पुष्टि की थी और इसे जंगी बेड़े में शामिल किया गया था। रूस की स्ट्रैटिजिक मिसाइल फोर्स के कमांडर कर्नल जनरल सर्जेई काराकीव के अनुसार Avangard को यासनेन्स्की मिसाइल कंपाउंड में मॉस्को से 1,200 किलोमीटर दूर तैनात किया गया।

वहीं अमरीकी अखबार के किताब के अंश में यह पता चला था कि अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दावा किया है कि देश में ऐसा परमाणु हथियार सिस्टम विकसित किया है। जिससे रूस और चीन भी अनजान हैं। उन्होंने यहां तक कहा था कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने ऐसे हथियार के बारे में सुना नहीं होगा।

Donald Trump
Show More
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned