पाकिस्तान को UN से बड़ा झटका, कश्मीर मुद्दे को आपसी बातचीत से सुलझाएं

पाकिस्तान को UN से बड़ा झटका, कश्मीर मुद्दे को आपसी बातचीत से सुलझाएं

  • पाकिस्तान UN में उठाता रहा है कश्मीर का मुद्दा
  • इसी माह होने वाले संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र में शामिल होंगे पीएम मोदी
  • सत्र में पाक पीएम इमरान खान भी होंगे शामिल

यूएन से पाकिस्तान को एक बार फिर करारा झटका लगा है। UN के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा है कि दोनों देशों (भारत-पाकिस्तान) के बीच किसी भी संभावित वृद्धि को लेकर गुटेरेस बहुत चिंतित हैं और दोनों पक्षों से बातचीत के माध्यम से मुद्दे को निपटाने की अपील करते हैं।

जब दुजारिक से पूछा गया कि क्या इस महीने के अंत में संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरान गुटेरेस, भारत और पाकिस्तान के बीच कश्मीर पर मध्यस्थता करने की योजना बना रहे हैं। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि आप जानते हैं कि मध्यस्थता पर हमारी स्थिति और सिद्धांत हमेशा एक ही रहे हैं।

UN की ओर से आए इस बयान से पाकिस्तान को बड़ा झटका लगा है। क्योंकि, पाकिस्तान लगातार कश्मीर के मुद्दे को UN में उठाने के प्रयास में लगा हुआ है। जबकि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और भारत इस पर कई बार स्पष्ट कर चुका है कि कश्मीर को लेकर पाकिस्तान को जो भी परेशानी है वह सिर्फ द्विपक्षीय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बात को G7 समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सामने भी सपष्ट कर चुके हैं।

बता दे, इस महीने के अंत में संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र में पीएम नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान दोनों शामिल होंगे।

UN चीफ के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने मंगलवार को प्रेस ब्रिफिंग में कहा कि गुटेरेस ने G7 समिट के दौरान पीएम मोदी से मुलाकात की थी तो वहीं फ्रांस ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से बात की।
सोमवार को एंटोनियो गुटेरेस ने UN में पाकिस्तान की स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी के आमंत्रण पर उनसे मुलाकात की थी। इसमें लोधी ने कश्मीर मामले को लेकर अपनी बात रखी थी। स्टीफन दुजारिक ने कहा कि सार्वजनिक और निजी तौर पर दोनों के लिए ही उनका एक ही संदेश है कि वह स्थिति को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच किसी भी संभावित स्थिति के मद्देनजर चिंतित हैं। वे इस मुद्दे बातचीत के जरिए निपटाने की अपील करते हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned