अमरीका-चीन व्यापारिक समझौते से कम होगी वैश्विक अस्थिरता: आईएमएफ प्रमुख

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रबंध निदेशक (एमडी) क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने यह बयान दिया है।

वाशिंगटन। अमरीका और चीन के बीच हाल ही में व्यापारिक समझौते के पहले चरण पर सहमति होने दुनियाभर की आर्थिक वृद्धि को अवरुद्ध करने वाली अस्थिरता कम होगी। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रबंध निदेशक (एमडी) क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने यह बयान दिया है।

ऑस्ट्रेलिया: भारी बारिश से जंगलों की आग पड़ी कमजोर, लेकिन अब बढ़ रहा है बाढ़ का खतरा

वाशिंगटन के एक थिंकटैंक पीटरसन इंस्टीट्यूट फॉर इंटरनेशनल इकोनॉमिक्स द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में जॉर्जीवा ने कहा कि यह स्वागत योग्य कदम है कि पहले चरण का समझौता हो चुका है, ये संकेत कुछ अस्थिरता कम करेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, आईएमएफ प्रमुख ने कहा कि उनका संगठन और अधिक निश्चितता लाने के लिए कुछ योजनाएं बना रहा है,जो स्विट्जरलैंड के दावोस में विश्व इकोनॉमिक फोरम में सोमवार को जारी हो रहे विश्व इकोनॉमिक आउटलुक के अंग के तौर पर सार्वजनिक की जाएंगी।

उन्होंने कहा कि बहुपक्षीय ऋणदाताओं को उम्मीद है कि इस व्यापारिक समझौते से चीन के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इससे चीन 2020 में छह प्रतिशत वृद्धि के मापदंडों में पहुंच जाएगा। जॉर्जीवा ने अक्टूबर में चेतावनी दी कि व्यापारिक तनावों से वैश्विक वृद्धि पर ऐसे समय में बुरा असर पड़ रहा है जब वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी से गुजर रही है।

Show More
Mohit Saxena Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned