अमरीकी मीडिया ने की ट्रंप के भारत दौरे की आलोचना! बताया भारतीय वोटरों को रिझाने की रणनीति

  • अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) सोमवार को भारत दौरे पर अहमदाबाद पहुंचेंगे
  • अमरीका में 2020 के अंत में राष्ट्रपति चुनाव ( Presidential Election ) होने वाले हैं
  • अमरीका में 35 लाख से अधिक भारतीय मूल (US-Indian Citizen) के नागरिक रहते हैं

वाशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ( US President Donald Trump ) अपनी पत्नी मेलानिया ( Melania Trump ), बेटी इवांका ( Ivanka Trump ) और दामाद जैरेड कुशनर के साथ सोमवार को भारत आ रहे हैं। ट्रंप का बतौर राष्ट्रपति यह पहला आधिकारिक भारत दौरा ( Trump India Visit ) है। इसको लेकर ट्रंप और उसका पूरा परिवार का फी उत्साहित नजर आ रहे हैं।

लेकिन अब ट्रंप के दौरे से पहले अमरीकी मीडिया ( American Media ) ने उनकी आलोचना की है। अमरीकी मीडिया ने कहा है कि ट्रंप का यह भारत दौरान केवल भारतीय समुदाय ( Indian Community ) के लोगों को रिझाने के लिए एक रणनीति है।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ डिनर करेंगे इन आठ राज्यों के मुख्यमंत्री

बता दें कि ट्रंप अपने पहले आधिकारिक भारत दौरे को लेकर इतना उत्साहित हैं कि वे सोशल मीडिया पर पल-पल की सूचनाएं ट्वीट कर रहे हैं या फिर भारत दौरे से संबंधित ट्वीट को रीट्वीट कर रहे हैं। इसको लेकर अमरीकी मीडिया ने आलोचना करने हुए इसे ट्रंप की रणनीति करार दिया है।

ट्रंप का भारत दौरा सोंची समझी रणनीति

आपको बता दें कि अमरीका में 2020 के अंत में राष्ट्रपति चुनाव ( US Presidential Election ) होने वाले हैं। इसको लेकर प्रचार अभियान जोरों पर हैं। इस बीच ट्रंप ने भारत दौरा करने का फैसला किया और सोमवार (24 फरवरी) सुबह वे भारत पहुंचेंगे।

इसको लेकर अमरीकी मीडिया ने आलोचना करते हुए इसे ट्रंप की रणनीति करार दिया है। अमरीकी अखबार ‘द गार्जियन’ और ‘न्यूयार्क टाइम्स’ ने राष्ट्रपति ट्रंप के भारत दौरे को लेकर लगातार कई लेख छापे हैं। इनमें से कई लेखों में इस बात का जिक्र किया गया है कि ट्रंप राष्ट्रपति चुनाव के मद्दनेजर भारत दौरा कर रहे हैं।

कई लेखों में ये भी कहा गया है कि अमरीका में रहने वाले 35 लाख से अधिक भारतीयों को प्रभावित करने और उनके वोट को हासिल करने के लिए एक रणनीति के तहत भारत जा रहे है। ट्रंप का भारत दौरा कोई व्यापार समझौता नहीं है।

किसी कमांडो से कम नहीं है डोनाल्ड ट्रंप का ड्राइवर, 180 डिग्री में घुमा सकता है कार

आपको बता दें कि ट्रंप भी अपने दौरे से पहले कई बार ये बात बोल चुके हैं कि भारत के साथ कोई भी बड़ा व्यापारिक समझौते पर चर्चा नहीं होगी।

तुष्टिकरण की नीति अपना रहे हैं ट्रंप: विश्लेषक

जहां एक ओर ट्रंप के भारत दौरे को अमरीकी मीडिया एक रणनीति करार दे रहे हैं, वहीं अमरीकी विश्लेषकों का मानना है कि ट्रंप तुष्टिकरण की नीति अपना रहे हैं। अपने पहले कार्यकाल में ट्रंप ने 'अमरीका फर्स्ट' पॉलिसी को अपनाते हुए कई ऐसे फैसले लिए जिससे भारतीय समुदाय के लोगों के लिए काफी परेशानी हुई।

इसके बाद से ये माना जाने लगा कि भारतीय समुदाय आगामी राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप के खिलाफ वोट कर सकते हैं। लिहाजा अब चुनाव से पहले ट्रंप भारत दौरा करके एक संकेत देने की कोशिश में हैं कि उनकी सरकार भारतीय समुदाय के लोगों के साथ है।

विश्लेषकों का मानना है कि दूसरी तरफ अमरीकी लोगों को यह महसूस न हो कि ट्रंप भारतीय वोटरों को लुभाने के लिए ऐसा कर रहे हैं, इसके लिए वे भारत के खिलाफ सख्त दिखने वाले कुछ ऐसे बयान भी दे रहे हैं।

माना जाता है कि ट्रंप के जो कोर वोटर हैं वे 'अमरीका फर्स्ट' नीति के कट्टर समर्थक हैं। ऐसे में ये समझा जा रहा है कि भारत के खिलाफ नरमी कहीं ट्रंप को भारी न पड़ जाए। विश्लेषक मान रहे हैं ट्रंप तुष्टिकरण की नीति अपना रहे हैं, जिससे दोनों तरफ का वोट उन्हें मिल सके।

मेलानिया ट्रंप की हैप्पीनेस क्लास : केजरीवाल-सिसोदिया का 'नाम कटा

आपको बता दें कि बीते साल अमरीका में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में ट्रंप अचानक पहुंचकर सबको हैरान कर दिया था। क्योंकि पहुंचने से पहले तक ये साफ नहीं था कि वे जाएंगे। वहां पर केवल पीएम मोदी 50 लाख लोगों को संबोधित करने वाले थे। लेकिन ट्रंप ने इसका फायदा उठाने के साथ अमरीकी-भारतीय वोटरों में एक साफ संकेत देने की कोशिश की।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

US President Donald Trump
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned