लंदन: विजय माल्या को देख लगे नारे- 'वो देखो चोर-चोर', वतन वापसी पर कारोबारी ने दिया ये जवाब

लंदन: विजय माल्या को देख लगे नारे- 'वो देखो चोर-चोर', वतन वापसी पर कारोबारी ने दिया ये जवाब

Saif Ur Rehman | Publish: Sep, 08 2018 08:17:51 AM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 08:19:41 AM (IST) विश्‍व की अन्‍य खबरें

कारोबारी के साथ पहले भी ये वाक्या पेश हो चुका है।

लंदन। भारतीय बैंकों के 9 हजार करोड़ से अधिक कर्ज न चुकाने वाले कारोबारी विजय माल्या जब भी सार्वजनिक रूप से जनता के सामने आते हैं। उन्हें आलोचना का सामना झेलना पड़ा है, लोग माल्या की खूब हुटिंग करते हैं। ऐसा ही एक बार नजार शुक्रवार को देखने को मिला जब विजय माल्या लंदन के ओवल स्टेडियम में भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां टेस्ट देखने पहुंचे। मैच देखने जा रहे माल्या का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

सानिया-शोएब का बच्चा हिन्दुस्तान का या पाकिस्तान का, जानें इस सवाल पर क्या बोले शोएब मलिक

 

कब होगी घर वापसी?

काली पैंट और आसमानी रंग का ब्‍लेजर पहने माल्या से पूछा गया कि तुम कब भारत लौटोगे? माल्या ने पहले जवाब दिया कि, "ये तो जज फैसला करेंगे'। इस के बाद विजय माल्या खुशमिजाजी से सवाल पूछने वाले पत्रकार से विदा लेकर अपनी शानदार कार में बैठकर रवाना हो गए।

 

'चोर-चोर' चिल्लाने लगे लोग

मैच शुरू होने से पहले माल्या ने मशहूर सर जैक हाब्स गेट से प्रवेश किया और तब कुछ लोगों ने ‘चोर-चोर’ चिल्लाना शुरू कर दिया। एक व्यक्ति ने माल्या का वीडियो बनाना शुरू कर दिया जबकि एक अन्य जोर से चिल्लाया, ‘वो देखो चोर जा रहा है अंदर... चोर-चोर।’ इससे पहले माल्या जुलाई में टीम इंडिया से मिलना चाहता था, लेकिन भारत सरकार ने इसकी अनुमति नही दी। वहीं 11 जून, 2017 को जब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी मैच देखने के लिये ओवल स्टेडियम में पहुंचे तो भारतीय फैंस ने माल्या की जमकर हूटिंग की थी।

लंदन में चल रहा है केस

बता दें कि लंदन में रह रहे माल्या को फिलहाल भारत लाने की प्रयास किया जा रहा है। लंदन में विजय माल्या का प्रत्यर्पण केस चल रहा है। 2 मार्च 2016 को विजय माल्या भारत छोड़कर फरार हो गए थे, जिसके बाद 18 अप्रैल 2016 को माल्या के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था। उल्लेखनीय है कि शराब कारोबारी विजय माल्या को मुंबई की एक स्पेशल कोर्ट से हाल ही में राहत मिली है। अभी तक माल्या भगौड़ा घोषित नहीं हुए हैं। प्रवर्तन निदेशालय द्वारा उनके खिलाफ दायर एक अर्जी का जवाब देने के लिए अदालत ने माल्या को 3 सफ्ताह का वक्त दिया है।

Ad Block is Banned