WHO प्रमुख ने चेताया, कहा- महामारी को खत्म करने के लिए सिर्फ वैक्सीन ही कारगर नहीं

Highlights

  • वैक्सीन अकेले सारी महामारी को खत्म नहीं कर सकती है।
  • वैक्सीन के आ जाने के बाद भी लोगों की निगरानी करने की जरूरत होगी।

जिनेवा। कोरोना के संक्रमण काल के बीच भले ही सारी दुनिया इलाज की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबरें आने लगी है लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक बार दोबारा से इसे लेकर अपनी चेतावनी जारी की है।

WHO के चीफ टेड्रोस एडहानॉम (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने अपनी चेतावनी में कहा है कि भले ही कोरोना की कोई वैक्सीन बनकर तैयार ली जाए। लेकिन वो अकेले सारी महामारी को खत्म नहीं कर सकती है।

Moderna का दावा, महामारी से निपटने में करीब सौ प्रतिशत तक कारगर है वैक्सीन

टेड्रोस के अनुसार हमें वैक्सीन उन सारे तरीकों के साथ इस्तेमाल में लाए जाने की जरूरत है। जिनका इस्तेमाल अभी भी जारी है। वैक्सीन के आने के बाद वो सभी ट्रीटमेंट को छोड़ दिया जाएगा, जो अभी इस्तेमाल हो रहा है।

टेड्रोस एडहानॉम ने कोरोना वैक्सीन की सप्लाई चेन के बारे में भी बात की है। उनका कहना है कि अगर वैक्सीन का निर्माण होता है तो शुरुआती तौर पर इसको हेल्थ वर्कर्स को दिया जाएगा। इसके बाद जनसंख्या के अन्य लोगों की प्रियॉरिटी तय की जाएगी। वैक्सीन के आने के बाद दुनिया में कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़े को कम कर हमारा हेल्थ सिस्टम बेहतर हो सकेगा।

जारी रखनी होगी कड़ी निगरानी: WHO

टेड्रोस एडहानॉम ने चेताया कि वैक्सीन के आ जाने के बावजूद संक्रमण फैलने की पूरी संभावना बनी रहेगी। WHO प्रमुख के अनुसार वैक्सीन के आ जाने के बाद भी लोगों की निगरानी करने, उनके टेस्ट करने, लक्षण पाए जाने पर उन्हें आइसोलेट करना जरूरी होगा।

coronavirus COVID-19
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned