Corona टीका लगवाने की जल्दबाजी पर WHO की नाराजगी, कहा-युवाओं से पहले बुजुर्गों को लगाएं वैक्सीन

HIGHLIGHTS

  • WHO के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस ने एक बयान में कहा कि कोरोना टीका लगवाने को लेकर होड़ मची है। ऐसे में युवाओं से पहले बुजुर्गों को वैक्सीन लगाया जाना चाहिए।
  • टेड्रोस ने कहा कि अब तक एक गरीब देश को कोरोना टीका की मात्र 25 खुराकें दी गई हैं, जबकि लगभग 50 अमीर देशों में 3 करोड़ 90 लाख से अधिक लोगों को खुराकें दी जा चुकी हैं।

जेनेवा। कोरोना महामारी ( Corona Epidemic ) से पूरी दुनिया जूझ रही है और इससे अब तक लाखों लोगों की जान चुकी है, हालांकि दुनिया के कई देशों में कोरोना टीकाकरण ( Corona vaccination ) की शुरुआत हो चुकी है, जिससे इससे महामारी से बचाव की उम्मीदें काफी बढ़ गई है। जिन देशों में वैक्सीनेशन शुरू किया गया है, वहां पर प्राथमिकता के आधार पर लोगों को टीका लगाया जा रहा है। लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) वैक्सीनेशन को लेकर चिंता जताई है।

दरअसल, WHO के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस ( WHO Chief Tedros Adhanom Ghebreyesus ) ने एक बयान में कहा कि कोरोना टीका लगवाने को लेकर होड़ मची है। ऐसे में युवाओं से पहले बुजुर्गों को वैक्सीन लगाया जाना चाहिए। टेड्रोस ने कहा कि अमीर देशों में युवा तथा स्वस्थ लोगों को गरीब देशों में बुजुर्ग लोगों से पहले कोरोना टीका लगाना सही नहीं है।

कोरोना वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने की कोशिश, घरों में पर्चे फेंकने पर FIR दर्ज

सोमवार को टेड्रोस ने जेनेवा स्थित WHO मुख्यालय में संगठन की एक सप्ताह तक चलने वाली कार्यकारी बोर्ड की शुरुआत करते हुए अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि अब तक एक गरीब देश को कोरोना टीका की मात्र 25 खुराकें दी गई हैं, जबकि लगभग 50 अमीर देशों में 3 करोड़ 90 लाख से अधिक लोगों को खुराकें दी जा चुकी हैं।

टेड्रोस ने तंज भरे लहजे में नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि सबसे गरीब देश को न 2 करोड़ 25 लाख, न 25 हजार बल्कि मात्र 25 खुराकें दी गई हैं। यह बात मैं साफ-साफ और स्पष्ट कह रहा हूं। हालांकि उन्होंने उस देश का नाम नहीं बताया है, जिसे 25 खुराकें दी गई हैं।

ब्रिटेन में 70 या उससे अधिक आयुवर्ग के लोगों को भी लगेगा टीका

आपको बता दें कि अमरीका, भारत, चीन, रूस, ब्रिटेन, कनाडा, इजरायल, सऊदी अरब आदि तमाम देशों में कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो चुकी है। सभी देशों में प्राथमिकता के आधार पर स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना वॉरियर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स, बुजुर्गों और जिन्हें इसकी सबसे पहले जरुरत है, उन्हें पहले टीका लगाया जा रहा है।

Corona Vaccine: आरोग्य सेतु ऐप पर भी रजिस्ट्रेशन के बाद मिल सकती है वैक्सीन की डोज, जानिए पूरी प्रक्रिया

ब्रिटेन में अब 70 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों को कोरोना टीका लगाने का फैसला किया है। सोमवार को राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा ( NHS ) ने प्राथमिकता दिए जाने वाले समूहों का विस्तार किया है। इससे पहले ब्रिटेन में 80 साल या उससे अधिक वायुवर्ग के लोगों को टीका लगाया जा रहा था।

भारत में 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। अब तक 3.81 लाख से अधिक लोगों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है। भारत में 'कोविशील्ड' और 'कोवैक्सीन' का टीका लगाया जा रहा है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned