किस मैसेजिंग एप में कितना सेफ है आपका मैसेज, यहां से जानिए

डिवाइस का नाम, कॉन्टैक्ट लिस्ट, फोन की लोकेशन, शेयर किए गए फोटोज तक शामिल होते

By: अनिल जांगिड़

Published: 01 Oct 2016, 02:01 PM IST

नई दिल्ली। ऑनलाइन मैसेजिंग एप व्हाट्सएप अपनी प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट को लेकर चर्चा में है। इसकी तरह ही मैसेजिंग एप्स यूजर्स की सारी जानकारियां इकट्ठी करते हैं। इनमें आपकी डिवाइस का नाम, कॉन्टैक्ट लिस्ट और फोन की लोकेशन आदि से लेकर शेयर किए गए फोटोज तक शामिल होते हैं। समय पडऩे पर इन जानकारियों को वे जरूरत पडऩे पर सरकार या फिर कानूनी एजेंसियों के साथ साझा करती हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं कि पॉपुलर मैसेजिंग एप्स जैसे व्हाट्सएप, हाइक, ऐलो, वीचैट, मैसेंजर आदि पर कितना सेफ आपका मैसेज

व्हाट्सएप पर कितना सेफ है आपका मैसेज
व्हाट्सएप पर आपके लोगों के बीच शेयर होने वाले मैसेज, पिक्चर और विडियो आदि स्टोर नहीं होते। लेकिन यही अगर सामने वाले यूजर को डिलिवर न होने वाले 30 दिन तक स्टोर किए जाते हैं। इसमें इन मैसेजेज के साथ आपके इस्तेमाल करने का ढंग, लॉग, ट्रांजैक्शन, डिवाइस, कनेक्शन और स्टेट की जानकारी शेयर की जाती है। इससे छुटाकारा पाने के लिए यदि आप एप के अंदर जाकर डिलीट माय अकाउंट ऑप्शन चुनते हैं तो डेटा डिलीट कर दिया जाता है।

हाइक पर कितना सेफ है आपका मैसेज
इस एप पर मैसेज का कॉन्टेंट स्टोर नहीं होता। लेकिन व्हाट्सएप की तरह ही अनडिलिवर्ड मैसेज 30 दिन तक सेव किए जाते हैं। इसके अलाव हाइक पर आपके लास्ट सीन, थर्डपार्टी एप या वेबाइसट से जुडऩे की जानकारी, स्टेटस अपडेट, प्रोफाइल इमेज, डेट, टाइमलैप्स आदि सेव किएजाते हैं। हाइक में मैसेज डिलिवर नहीं होने पर डिलीट कर दिए जाते हैं।

टेलीग्राम पर कितना सेफ है आपका मैसेज
इस एप पर आपके सीक्रेट चैट सेव नहीं होते। हालांकि मोबाइल नंबर, ईमेल (डेटा थर्ड पार्टी से शेयर नहीं किया जाता) आदि सेव किए जाते हैं। लेकिन 6 महीने तक इस्तेमाल न होने वाले मैसेज और कॉन्टैक्ट्स को इस एप से डिलीट कर दिया जाता है।

सिग्नल एप पपर कितना सेफ है आपका मैसेज
इस मोबाइल एप पर किसी भी मैसेज को ऐक्सेस या स्टोर नहीं किया जाता है, लेकिन ऑथेंटिकेशन टोकन, कीज, पुश टोकन, प्रोफाइल इन्फो और आईपी आदि को सेव किया जाता है। समें यूजर की सहमति के बिना डेटा को थर्ड पार्टी से शेयर नही किया जाता। इस एप में सभी मैसेज अनरजिस्टर्ड नंबर हटा दिए जाते हैं।

गूगल ऐलो
गूगल ऐलो एप में इनकॉग्निटो मोड में कोई मैसेज स्टोर नहीं किया जाता। हालाकि सभी मैसेज अपने आप स्टोर किए जाते हैं। शेयर होने वाली इन चीजों में आपका फोन नंबर, ऐप वर्जन, प्रोफाइल इन्फो, ग्रुप चैट इन्फो। इसके अलावा यदि यूजर गूगल अकाउंट से लिंक होता है सभी सर्विसेज से इन्फर्मेशन शेयर की जाती है। अगर ऐलो एप गूगल अकाउंट से जुड़ा है तो गूगल असिस्टेंट की चैट्स डिलीट नहीं होतीं। इनको अलग से डिलीट करना होता है।
Show More
अनिल जांगिड़ Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned