मिनी एप डेवलपर्स के लिए 10 करोड़ रुपए की राशि देगा Paytm

अब Google के साथ जारी अपनी लड़ाई में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए पेटीएम ने कहा कि वह देश के मिनी एप डेवलपर्स के लिए 10 करोड़ रुपये की राशि सुरक्षित कर रहा है।

By: Mahendra Yadav

Published: 09 Oct 2020, 04:30 PM IST

Paytm ने Google को करारा जवाब देते हुए हाल ही खुद के Mini App Store की शुरुआत की है। Paytm ने यह कदम तब उठाया था, जब Google ने नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए Paytm को अपने प्ले स्टोर से हटा दिया था। हालांकि कुछ घंटो बाद ही फिर से प्ले स्टोर पर Paytm को फिर से जगह दे दी थी। अब Google के साथ जारी अपनी लड़ाई में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए पेटीएम ने कहा कि वह देश के मिनी एप डेवलपर्स के लिए 10 करोड़ रुपये की राशि सुरक्षित कर रहा है।

यह भी पढ़ें—मात्र 19,990 में खरीद सकते हैं 54,990 रुपए वाला LG G8X स्मार्टफोन, जानिए कैसे

10 लाख मिली एप्स का टारगेट
Paytm के CEO विजय शेखर शर्मा ने मिनी एप डेवलपर्स कांफ्रेंस में कहा कि वह कम से कम 10 लाख मिनी एप्स को टारगेट कर रहे हैं क्योंकि वह गूगल द्वारा अनुचित चार्ज के खिलाफ हैं। Google ने बीते दिनों कहा था कि अब जितने भी डेवलपर्स उसके प्लेस्टोर के साथ जुड़ना चाहते हैं उन्हें प्लेस्टोर बिलिंग सिस्टम के साथ एकीकृत होना होगा। हालांकि बाद में गूगल ने भारतीय डेवलपर्स के लिए एल्टनेटिव पेमेंट सिस्टम अपनाने की समय सीमा बढ़ाकर 31 मार्च, 2022 तक कर दी।

paytm2.png

एप डेवलपर्स को मिलेगा फायदा
Paytm के Mini App Store से एप डेवलपर्स और ब्रैंड्स को भी फायदा मिलेगा। पेटीएम ने बताया था कि मिनी एप स्टोर ओपन सोर्स टेक्नोलॉजी जैसे HTML और जावास्क्रिप्ट को इंटीग्रेट करेगा और पेटीएम एप के 15 करोड़ एक्टिव यूजर्स को इसका एक्सेस मिलेगा। साथ ही पेटीएम ने कहा था कि वह नई मिनी एप्स की लिस्टिंग और डिस्ट्रीब्यूशन का काम अपने एप के माध्यम से करेगा और इसके लिए कोई भुगतान नहीं करना होगा। पेमेंट के लिए डेवलपर्स अपने यूजर्स को पेटीएम वॉलेट, पेटीएम पेमेंट्स बैंक, यूपीआई, नेट बैंकिंग और कार्ड्स का ऑप्शन दे सकते हैं।

यह भी पढ़ें—फ्री मिल रहे हैं Samsung के Galaxy Fold जैसे महंगे स्मार्टफोन, ऐसे उठाएं लाभ

300 से अधिक सर्विस प्रोवाइडर हुए शामिल
पेटीएम के मिनी एप स्टोर को खासतौर पर मोबाइल वेबसाइट के लिए तैयार किया गया है। इन्हें बिना डाउनलोड किए ही एप जैसा अनुभव हासिल किया जा सकता है। 300 से अधिक एप आधारित सर्विस प्रोवाइडर जैसे कि डेकाथलन, ओला, पार्क प्लस, रेपिडो, नेटमेड्स, 1एमजी, डोमिनोज पिज्जा, फ्रेशमेन्यू, नोब्रोकर पहले ही इस प्रोग्राम में शामिल हो चुके हैं।

Paytm Paytm CEO
Show More
Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned