मोहाली में धमाका, निर्माणाधीन भवन गिरा, मालिक समेत चार की मौत

पंजाब के मोहाली में दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग पर डेराबस्सी में निर्माणाधीन इमारत गिर गई। इसके नीचे दबकर चार लोगों की मौत हो गई।

By: Bhanu Pratap

Published: 24 Sep 2020, 06:34 PM IST

मोहाली। पंजाब के मोहाली में दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग पर डेराबस्सी में निर्माणाधीन इमारत गिर गई। इसके नीचे दबकर चार लोगों की मौत हो गई। मृतकों में इमारत का मालिक भी शामिल है। इमारत गिरने से जोरदार धमाका हुआ, जिससे दहशत फैल गई। चार घंटे तक राहत कार्य चला। यह सुनिश्चित करने के बाद कि कोई व्यक्ति नहीं दबा है, कर्मचारी मौके से हटे।

तीन मजदूरों की मौके पर मौत

रामलीला मैदान के पास बाजार में पुरानी इमारत में दो भाइयों की दुकानें बन रही थी। दोनों इमारतों का लेंटर डाला जा चुका था। वीरवार को अचानक एक बिल्डिंग का लिंटर धड़ाम से गिर गया। लेंटर के नीचे मालिक समेत तीन मजदूर दब गए। मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि मालिक को चंडीगढ़ स्थित मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। वहां इलाज के दौरान उन्होंने भी दम तोड़ दिया। चार अन्य श्रमिक बिल्डिंग के बाहर थे, इसलिए बच गए।

इनकी हुई मौत

मारे गए मजदूरों में गोपीचंद (60 वर्षीय) पुत्र अनूप लाल, रमेश कुमार (50 वर्षीय) पुत्र ठाकु लाल, राजू (40 वर्षीय) पुत्र सीताराम सभी जिला अररिया बिहार के रहने वाले थे। हादसे में इमारत मालिक हरदेव सिंह (72 वर्षीय) की भी मौत हो गई।

जांच का आदेश

घटना की जानकारी मिलते ही एसडीएम डेराबस्सी, डीएसपी डेराबस्सी एवं नगर परिषद के अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंच गए। एसडीएम ने अपनी देखरेख में दो बड़ी जेसीबी मशीनें एवं अन्य सामान मंगवा कर मलबा हटाने का काम शुरू करवा दिया। एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंची। घटना की जानकारी मिलते ही डिप्टी कमिश्नर मोहाली गिरीश दयालन मौके पर पहुंच गए और अपने सामने राहत कार्य कराया। डिप्टी कमिश्नर ने जांच का आदेश जारी किया है। उन्होंने कहा कि जांच में जो भी दोषी पाए गए उन पर मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। ‌4 घंटे की कड़ी मेहनत के बाद पूरा मलबा हटवा कर किसी और व्यक्ति के दबे न होने के यकीन होने पर ही एसडीएम कुलदीप बावा घटनास्थल से वापस गए।

विधायक का आरोप

इस बारे में डेराबस्सी के विधायक एनके शर्मा का कहना है कि नगर परिषद के अधिकारियों की देखरेख में अवैध निर्माण हो रहे हैं और इसी करण यह हादसा हुआ है। दूसरी ओर नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी जगजीत सिंह जज ने बताया कि निर्माणाधीन बिल्डिंग का नक्शा पास था। इमारत गिरने के कारणों की जांच की जाएगी।

mohali.jpg
Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned