पांच अगस्त से खिलाडि़यों को ऑनलाइन प्रशिक्षण

खेल मंत्री ने अफसरों से कहा- खिलाडि़यों को आने वाले खेल टूर्नामेंट के लिए तैयार रखा जाए

By: Bhanu Pratap

Published: 01 Aug 2020, 06:00 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब के खिलाडि़यों को 5 अगस्त से ऑनलाइन प्रशिक्षण देने के लिए खेल विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है। कोविड-19 महामारी के बाद स्थिति सामान्य होने पर करवाए जाने वाले प्रांतीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंटों के लिए खिलाडि़यों को तैयार रखने और नयी खेल तकनीकों से अवगत करना है। पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने खेल विभाग के अधिकारियों, जिला खेल अफसरों और प्रशिक्षकों को हिदायत की कि वह इस पहलकदमी के लिए जोर शोर से काम करें।

खेल स्टेडियम मोहाली का दौरा

इस बीच पंजाब के खेल निदेशक डी.पी.एस. खरबन्दा ने खेल स्टेडियम सैक्टर-78 मोहाली का दौरा किया और जमीनी हालात का जायजा लिया। उन्होंने अपने दौरे के दौरान खेल सुविधाओं खास तौर पर एथलेटिक ट्रैक के नवीनीकरण पर जोर दिया।

कोविड से लड़ने की भावना पैदा करें

ऑनलाइन प्रशिक्षण और कोचिंग एक तरफ उभरते हुए और स्थापित खिलाडि़यों को इस महामारी के दौरान अगले टूर्नामेंट के लिए तैयार रखेगा, जबकि दूसरी तरफ खिलाडि़यों में इस खतरनाक बीमारी के साथ लड़ने की भावना पैदा की जायेगी। इसलिए खेल और युवक सेवाओं विभाग ने राज्य भर के खिलाडि़यों को ऑनलाइन प्रशिक्षण देने का फैसला किया है। राज्य सरकार राज्य में खेल के लिए बुनियादी ढांचा और कोचिंग सुविधाओं को मजबूत करने के लिए वचनबद्ध है। राज्य भर के प्रशिक्षकों के साथ ऑनलाइन मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने खिलाडि़यों के लिए इस प्रशिक्षण के लिए सभी जरुरी प्रबंध पूरे करने के आदेश दिए।

तय मापदण्डों का सख्ती के साथ पालन हो
राणा सोढी ने यह भी हिदायत की कि उभरते हुए और स्थापित खिलाडि़यों को ऑनलाइन प्रशिक्षण देने के दौरान सभी तय मापदण्डों का सख्ती के साथ पालन सुनिश्चित किया जाये जिससे खिलाड़ी हर समय टूर्नामेंटों के लिए तैयार रहें। खिलाड़ियों के पोषण में कोई कमी न आने देने की हिदायत करते हुए उन्होंने कहा कि खिलाडि़यों को खुराक और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के बारे में भी बताया जाये जिससे वह कोरोना बीमारी से बच सकें। खेल मंत्री ने कहा कि हमारा मंतव्य यह है कि खिलाडि़यों को खेल की जरूरत के मुताबिक तैयार रखा जा सके जिससे जब वह फिर से मैदान पर आएं तो शारीरिक तौर पर फिट हों। खिलाडि़यों का फिटनेस स्तर, लचीलापन और चुस्ती फुर्ती बरकरार रखने के लिए उनको अपना खेल जारी रखने के लिए लगातार प्रेरित किया जा रहा है। ऑनलाइन कोचिंग के साथ खिलाडि़यों को व्यस्त रखने में मदद मिलेगी।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned