अब GST के विरोध में उतरे पीतल कारीगर और कारखाना संचालक, किया काम बंद

पीतल कारीगर और कारखाना संचालक ने काम बंद कर GST के विरोध में सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

मुरादाबाद। केन्द्रीय सेवा एवं उत्पाद कर यानि GST को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में अब भी विरोध जारी है। इसी कड़ी में मंगलवार को मुरादाबाद में कारखाना संचालकों के साथ-साथ हजारों की संख्या में पीतल दस्तकारों ने काम बंद कर ईदगाह मैदान में सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनाकारियों ने केन्द्र सरकार से जीएसटी वापस लेने की मांग की। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पहले से नोटबंदी की मार झेल रहे पीतल उद्योग को जीएसटी ने लगभग खत्म सा कर दिया है।


जीएसटी विरोधी मोर्चा के संयोजक हाजी अशरफ ने बताया, 'पूरी दुनिया मुरादाबाद की पीतल नगरी के रूप में पहचान है, लेकिन आज इस पर संकट आ गया है। वो भी केंद्र सरकार की नीतियों के चलते।' उनका कहना है कि पहले हस्तशिल्प उत्पाद स्टाम्प फ्री थे, निर्यातक टैक्स भरता था। लेकिन, जीएसटी के कारण सब पर टैक्स लग गया। हाजी अशरफ ने बताया कि पहले कच्चे माल पर कोई टैक्स नहीं था। लेकिन, अब वहीँ से टैक्स लग रहा है, जिसका लेखाजोखा मजदूर नहीं भर सकता। हाजी अशरफ के मुताबिक, मुरादाबाद में छोटे- बड़े मिलाकर करीब 15 हजार कारखाने होंगे और इससे करीब 15 लाख लोगों की रोजी रोटी जुड़ी हुई है। लेकिन, जीएसटी के कारण घरों में चलने वाली भट्टियां बंद पड़ी हैं। पीतल दस्तकार बिना मजदूरी के बेकार हैं और उनका परिवार भी संघर्ष कर रहा है। हाजी अशरफ का यह भी कहना था कि सरकार को इस उद्योग को प्रोत्साहन देना चाहिए था, क्योंकि इससे देश को विदेशी मुद्रा मिलती है। लेकिन, इससे अलग सरकार ने इसे भी जीएसटी में ला दिया। लिहाजा, पीतल उद्योग पर संकट के बादल छा गए हैं।

विरोध प्रदर्शन के दौरान बड़ी संख्या में पीतल दस्तकार ईदगाह मैदान पहुंचे और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इस दौरान एक मांग पत्र जीएसटी काउंसिल को भी भेजने का फैसला लिया गया। बता दें मुरादाबाद में जीएसटी को लेकर पहले भी निर्यातकों ने अपनी समस्याएं सरकार और उनके प्रतिनिधियों को जताई थी। इसके बावजूद जीएसटी से कोई भी राहत अभी तक पीतल उद्योग को नहीं मिली है।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned