भैंस ने छात्र को किया घायल, केस दर्ज होने पर मालिक ने पशु पालने से किया तौबा

भैंस ने छात्र को किया घायल, केस दर्ज होने पर मालिक ने पशु पालने से किया तौबा

Iftekhar Ahmed | Publish: Nov, 14 2017 09:36:40 PM (IST) Rampur, Uttar Pradesh, India

नराज छात्र के परिजनों ने भैंस मालिक के खिलाफ दर्ज करा दी एफआईआर

रामपुर. कोतवाली सिविल लाइन के गांव लौखी में गली में खेल रहे पांचवी क्लास के छात्र को भैंस ने टक्कर मार दी। इस हादसे में छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया । घायल बच्चे का सात दिन से मुरादाबाद के जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। जहां उसकी हालात नाजुक बनी हुई है। इससे नराज छात्र के परिजनों ने भैंस मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। वहीं भैंस मालिक का परिवार इस हादसे से सदमे में है। आहत परिवार ने भैंस पालने से ही तौबा कर दिया है।

घटना कोतवाली सिविल लाइन के गांव लौखी की मड़ियां का है । यहां पांचवीं की छात्र गांव के गलियारे में घूम रहा था, तभी अचानक रास्ते में गांव के ही विजय पाल सिंह की भेंस रस्सी तोड़ कर घर से भागकर सड़क पर आ गई और बच्चे को अपने सींगों पर उठाकर फेंक दिया । भैंस मालिक की माने तो अचानक भैंस को गुस्सा आया और वह रस्सी तोड़कर भाग गई। रास्ते में एक छात्र भेंस के सामने आ गया, जिसको भेंस ने अपने सींगों पर उठाकर पटक दिया। इस हदसे में छात्र घायल हो गया। घायल को उठाकर पहले ज़िला अस्पताल भेजा गया। जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक इलाज के बाद उसे मुरादाबाद मेडिकल कॉलेज भेज दिया। यहां उसका इलाज चल रहा है। इस घटना के बाद भैंस मालिक की मां कान पकड़ कर कहती है कि अब में भैंस नहीं पालूंगी ।

घटना में घायल छात्र जहां जिंदगी और मौत से जूंझ रहा है। वहीं, भैंस मालिक परिवार भी घटना को लेकर माफी मांग रहे हैं। भैंस मालिक विजय पाल कहता है कि मैंने उसे इलाज के लिए रकम भी दे दी और मेरे पर मुकद्दमा भी लिखा दिया। उनकी मां कहती है मैं भैंस नहीं पालूंगी । ऐसे में दूध का संकट परिवार पर मंडरा रहा है। घर में बच्चे दूध कहां से पीएंगे क्योंकि मां भेंस को लेकर चिंतित है। वह हर हाल में भेंस बेचना चाहती है।

पुलिस के अफसर बोले
सीओ सिटी नरेंद्र पाल ने कहा है कि मामला प्रकाश में आया है। एक भैंस ने बच्चे को अपने सींगों से टक्कर मार दी। कोतवाली सिविल लाइन ने भेंस मालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। मामले की जांच की जा रही है।

पशु प्रेमी ले इस घटना से सबक
अगर आप कोई भी पशु पालना चाहते हैं तो आप पालें, लेकिन उनकी हर हरकत पर ख्याल रखें। पशुओं को अकेला नहीं छोड़ें । रस्सी अगर मज़बूत नहीं हो तो उसे लोहे की जंजीर से बांधे। इसके अलावा अगर कोई पशु अगर लोगों पर हमला करता है या फिर हमला करने की फिराक में रहता है तो उसे पहले पशु चकित्सकों को दिखाएं। वर्ना अगर कोई घटना घट गई तो समझो आपके खिलाफ भी यही मुकद्दमे दर्ज हो सकते हैं।

Ad Block is Banned