भारत बंद में शामिल नहीं हुए ये दिग्गज नेता, राजनीतिक सरगर्मियां तेज

भारत बंद में शामिल नहीं हुए ये दिग्गज नेता, राजनीतिक सरगर्मियां तेज

Rahul Chauhan | Publish: Sep, 10 2018 07:03:36 PM (IST) Moradabad, Uttar Pradesh, India

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की खासमखास रहीं रामपुर की पूर्व सांसद नूरबानो व सपा नेता आजम खान भारत बंद के दौरान नजर नहीं आए।

रामपुर । कांग्रेस पार्टी की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी की खासमखास रहीं रामपुर की पूर्व सांसद बेगम नूरबानो सोमवार को भारत बंद के समर्थन में अपने जिले की सरजमीं पर कांग्रेसियों के साथ नजर नहीं आईं। महज़ 4 दर्जन कांग्रेसी ही सड़कों पर भारत बंद का समर्थन करते नज़र आये। आजादी के बाद से ही नूरमहल वो जगह थी, जहां से उत्तर प्रदेश के राजनेता ही नहीं बल्कि देश के जाने-माने नेता भी यहां से देशव्यापी आंदोलन शुरू करते थे। लेकिन आज स्थिति एक दम उलट है। बीते 18 वर्षों में जितने भी देशव्यापी आंदोलन हुए उनमें कांग्रेस की पूर्व सांसद रहीं बेगम नूरबानो न के बराबर ही नज़र आईं।

यह भी पढ़ें-मोदी सरकार को बड़ा झटका, इस आंदोलन के लिए कांग्रेस के साथ आए 21 दल, मची खलबली

भारत बंद के समर्थन में रामपुर की सड़कों पर कोई खास असर देखने को नहीं मिला। महज 4 दर्जन कांग्रेसी इस भारत बंद में केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते नजर आए। प्रदेश उपाध्यक्ष मुतीउर्रहमान उर्फ बब्लू इन कांग्रसियों के साथ सुबह 10 बजे निकले थे। रामपुर रेलवे स्टेशन से लेकर जिला कलेक्ट्रेट की मेन सड़क पर होते हुए ये कांग्रेसी पहले हामिद मंजिल पहुंचे। जहां पर सर्राफा बाजार होते हुए कलेक्ट्रेट आए। यहां आकर उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया।

यह भी पढ़ें-SC-ST एक्ट पर पूछा सवाल तो प्रेस-कांफ्रेंस छोड़कर चले गए योगी के ये मंत्री

begum noor bano

यह भी पढ़ें-सेक्युलर मोर्चा की घोषणा के बाद जहां शिवपाल ने की थी रैली, वहीं चौधरी अजीत सिंह ने कर दिया ये ऐलान

प्रदेश उपाध्यक्ष मुतीउर्रहमान बोले
उत्तर प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष मुतीउर्रहमान बबलू खान बोले कि देश की राजधानी दिल्ली में नूरबानो सोनिया गांधी के साथ भारत बंद में शामिल हैं। इसके अलावा उनके साथ देश के बड़े नेता हैं। जब-जब कांग्रेस देशव्यापी आंदोलन करती है तब-तब रामपुर की पूर्व सांसद नूरबानो उसमें हिस्सा लेती हैं। इस वक्त वह दिल्ली में हैं। जिले में हम सुबह से ही भारत बंद का समर्थन कर रहे हैं। तमाम हमारे कांग्रेसी डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर अपना रोष प्रकट कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें-सीएम योगी के 11 सितंबर को बागपत पहुंचने पर इस संगठन ने दी रोड जाम करने की चेतावनी, प्रशासन में मचा हड़कंप

azam khan

यह भी देखें-सांसद तबस्सुम हसन ने इस तरह किया महंगाई का विरोध

भारत बंद के समर्थन में समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान भी अपने समर्थकों के साथ नजर नहीं आए। लेकिन सैकड़ों की तादात में सपाई सपा कार्यलय से बाबू माल होते हुए नगर की सड़कों पर सरकार विरोधी नारे लगाते नजर आए। लेकिन इस दौरान इन सपा कार्यकर्ताओं के साथ कोई विधायक, ब्लॉक प्रमुख भारत बंद के समर्थन में सड़कों पर नज़र नहीं आए। सपा जिला अध्यक्ष अखिलेश कुमार और समाजवादी पार्टी की जिला इकाई समेत सैकड़ों कार्यकर्ता भारत बंद के समर्थन में सड़कों पर उतरे।

बसपा का भारत बंद में नहीं रहा समर्थन
बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ता और जिला इकाई के लोग भारत बंद के समर्थन में दिखाई नहीं दिए, जबकि सपा और कांग्रेसी केंद्र सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे ही नहीं बल्कि उन्होंने सरकार विरोधी नारे लगाकर भारत बंद का समर्थन कर सिटी मजिस्ट्रेट ओमप्रकाश को ज्ञापन सौंपा।

Ad Block is Banned