Rampur: लॉकडाउन में कालाबाजारी कर रहे चार दुकानदारों को भेजा जेल, आठ दुकानें निलंबित

Highlights

  • लोगों द्वारा की जा रहीं थी शिकायतें
  • डीएम ने संज्ञान लेकर लिया कड़ा एक्शन
  • बोले किसी कोई भी लोगों से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा
  • प्रशासन की कार्रवाई से पूरे जिले में राशन डीलरों में मचा हुआ है हड़कंप

By: jai prakash

Published: 04 Apr 2020, 05:49 PM IST

रामपुर: लाकडाउन के बाद जिले में सरकारी राशन की कालाबाजारी करने और उपभोक्ताओं को कम राशन वाले सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान संचालकों पर ताबड़तोड़ कार्येवाही की जा रहीं है। बीते चार दिनों में तीन दुकानदारों के खिलाफ मुकद्दमा लिखकर जेल ही नहीं भेजा,बल्कि आठ सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान संचालकों का निलंबन कर दिया है। जिले में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों पर छापेमारी जारी है।

पीएम मोदी की अपील के बाद एकाएक बढ़ी मिट्टी के दीपक की डिमांड

जारी किये नम्बर

जिला अधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने लोगो को कहा है कि अगर कोई सरकारी राशन दुकानदार ज्यादा रकम वसूलता है या फिर काला बाजारी करता है तो उसकी सूचना हमारे कंट्रोल रूम नम्वर पर दे सकते है। इसके अलावा हमारे कंट्रोल रूम में दो व्हाट्सएप नम्बर है वहां भी सूचना दे सकते हैं। किसी भी हाल मे सरकारी राशन की कालाबाजारी नहीं करने दी जाएगी इसे रोकने के लिए हमारी टीमें लगातार 24 घन्टे अपनी सेवाये दे रहीं है।

जब सब इंस्पेक्टर ने छेड़ा देशभक्ति का तराना तो घरों की खिड़कियों से झांकने लगे लोग

अधिकारीयों को दिए छापेमारी के निर्देश

जिलाधिकारी ने एडीएम प्रशासन जगदंबा प्रसाद को साफ निर्देश दिया है कि वह खुद जिले में चल रही सभी सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों का भ्रमण करें कौन दुकानदार उपभोक्ता के साथ बदमाशी कर रहा है।अगर उपभोक्ता को कम राशन दे रहा है तो तत्काल एक्शन ले और उसे जेल भेजें। इसी बात को ध्यान में रखकर एडीएम प्रशासन जगदंबा प्रसाद गुप्ता समेत जिले के सभी एसडीएम अपने-अपने इलाकों में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रहे हैं। जहां जहां से शिकायत मिल रही है वहां वहां पर जाकर तत्काल एक्शन ले रहे हैं। यही वजह है कि पिछले 4 दिन के भीतर तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा लिख कर उन्हें गिरफ्तार ही नही किया बल्कि उन्हें जेल भेजा है जबकि 8 दुकानदारों को सस्पेंड कर दिया।

ये हुई कार्रवाई

एसडीम सदर पी पी तिवारी ने अपने नगर छेत्र में काशीराम कालोनी स्थित सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के संचालक जितेंद्र कुमार सागर को सस्पेंड कर दिया। शिकायत थी कि ये सरकारी दाम से ज्यादा उपभोक्ताओं से वसूल रहे थे। जांच में ये बात सही पाई गई जिसको लेकर ये कार्येवाही की गई है। इसके अलावा बेरियाँन मुहल्ले में भी यही शिकायत थी जिसको लेकर दुकानदार संचालक मिसरुदीन खान पर निलंबन की कार्येवाही की गई है। नोगवा गाँव जोकि ब्लाक चमरोवा में आता है। वहां पर शिकायत मिली कि कम राशन उपभोक्ताओं को दिया जा रहा है जिसको लेकर दुकान संचालक इस्तेकार को गिरफ्तार करके जेल भेजा है। सैदनगर के ब्लाक में दो दुकानदारों को गिरफ्तार करके जेल भेजा है जिनके नाम मनोज ओर जाहिद हैं।ये दोनों दुकानदार उपभोक्ताओं से ज्यादा रकम वसूल रहे थे।

Corona virus
Show More
jai prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned