ऑक्सीजन सिलेंडर प्लांट पर हो रहा था ये काम, ड्रग इंस्पेक्टर ने मारा छापा तो खुला ये राज, देखें वीडियो

Jai Prakash | Updated: 08 Aug 2019, 05:01:47 PM (IST) Moradabad, Moradabad, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • हॉस्पिटल व प्राइवेट सिलेंडर एक ही कैप्सूल से भरे जा रहे थे
  • विभाग को मिली थी शिकायत
  • फैक्ट्री सील कर मालिक को दिया नोटिस

मुरादाबाद: शहर के मूंढापांडे थाना क्षेत्र में पिछले काफी समय से ड्रग डिपार्टमेंट को ऑक्सीजन फैक्ट्री में गड़बड़ी की सूचना मिल रही थी। जिस पर टीम ने वहां पर छापा मारा तो यहां वाकई गड़बड़ी मिली। यहां से सरकारी व् निजी अस्पतालों को ऑक्सीजन सप्लाई की जाती है। जिसमें यहां प्राइवेट ऑक्सीजन सिलेंडर भी भरते हुए मिले। जोकि मानक के विपरीत थे। जिस पर फैक्ट्री को सीज कर दिया गया और फैक्ट्री मालिक को नोटिस दिया गया है।

इस शहर में बैंकॉक और थाइलैंड की तर्ज पर रातें होंगी गुलजार

ये है मामला
मूंढापांडे थाना क्षेत्र के गांव अक्का डिलारी में पवन ऑक्सीप्योर प्राइवेट लिमिटेड फैक्टरी में ड्रग इंस्पेक्टर नरेश मोहन दीपक ने टीम के साथ छापामार कार्यवाही की। ड्रग इंस्पेक्टर को ऑक्सीजन फैक्ट्री की कई शिकायतें प्राप्त हो रही थी जिसकी शिकायत पर ड्रग इंस्पेक्टर ने छापामार कार्रवाई की है। ड्रग इंस्पेक्टर नरेश मोहन दीपक ने बताया कि छापामार कार्यवाही के दौरान एक ही टैंक से कॉमर्शियल और मेडिकल ऑक्सीजन सिलेंडर रिफिलिंग होते हुए पाए गये। उन्होंने बताया कि जनहित में प्लांट को मेडिकल ऑक्सीजन हेतु बंद कर दिया गया है। फैक्ट्री मालिक को नोटिस भेजा जा रहा है।

Video: बकरीद पर गाय की कुर्बानी को लेकर देवबंदी आलीम ने मुस्लिमों से की ऐसी अपील, आप भी करेंगे तारीफ

पहले भी मिली थी गड़बड़
यहां बता दें कि दो साल पहले भी इस प्लांट पर अवैध रूप से सिलेंडर भरते हुए मिले थे। लेकिन उसके बाद भी ये दोबारा चालू हो गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned