बेटी के सामने दिनदहाड़े चाकुओं से गोदकर पिता की हत्या- वीडियो देखकर रो पड़ेंगे आप

परिवार के लोगों ने नन्हें को बचाने की बहुत कोशिश की। लेकिन हमलावर इस कदर उग्र थे कि उन्होंने बचाने आए मृतक के बेटों को भी घायल कर दिया।

By:

Published: 12 Nov 2017, 05:47 PM IST

रामपुर। शहर के थाना शहजादनगर इलाके में दिन दहाड़े हुई हत्या को लेकर सनसनी फैल गई। गांव के लोगों ने ही गांव के एक शख्स की चाकू से गोदकर हत्या की है। हत्या की वजह पुलिस में शिकायत करने का शक बताया जा रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा है। मृतक परिवार की ओर से सात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकद्दमा दर्ज़ कराया गया है।

देखें वीडियो

घटना लखनाखेड़ा गांव की है। पुलिस अधीक्षक ने मामले की गम्भीरता को समझते हुए थाने की फोर्स गांव में लगा दी है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें जुटी हैं। पुलिस के अफसर जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने की बात कह रहे हैं। दरअसल अगले सप्ताह गांव में एक शादी होनी थी जिसमें गांव के ही एक शख्स की गाय खरीदने की बात चल रही थी, इसी दौरान किसी ने पुलिस को सूचना दे दी कि गांव में एक गाय बिक रही है। शादी में उसे काटा जाएगा।

पुलिस ने मामले की जानकारी पाते ही गांव में जाकर गाय की बिक्री रुकवा दी, लेकिन बाद में दो पक्षों में विवाद हुआ विवाद में एक पक्ष पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जिस पक्ष के व्यक्ति को पुलिस ने जेल भेजा उस पक्ष के लोगों को लगा कि नन्हें (मृतक) ने ही पुलिस में शिकायत की है। बस इसी शक में कई हथियारबंद लोग नन्हें के घर में घुसे और ताबड़तोड़ चाकू के वार से नन्हें नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी।

घटना को तब अंजाम दिया गया था जब घर के सभी लोग सो रहे थे। परिवार के लोगों ने नन्हें को बचाने की बहुत कोशिश की। लेकिन हमलावर इस कदर उग्र थे कि उन्होंने बचाने आए मृतक के बेटों को भी घायल कर दिया।

घटना की सूचना पर एडिशनल एसपी मौके पर पहुंची हैं जहां उन्होंने आश्वासन दिया है कि आरोपी हर हाल में गिरफ्तार किए जाएंगे। इसके अलावा उनके किए गए अपराध की सजा दिलाने को पुलिस सभी सबूत इकट्ठा कर रही है। गांव के लोग सदमे में हैं तो वहीं मृतक परिवार के घर में कोहराम मचा हुआ है।

मृतक की बेटी का कहना है कि मेरी आंखों के सामने मेरे पिता की हत्या कर दी, मैंने बहुत दुहाई मांगी कि आप छोड़ दो लेकिन उन्होंने नहीं छोड़ा एक के बाद इतने वार किए कि मौके पर ही उनकी मौत हो गई। मृतक की बेटी ने बताया कि मेरे कई भाइयों ने बचाने का प्रयास किया तो उन्हें भी चाकू मारकर घायल कर दिया।

फिलहाल घटना को लेकर पुलिस की जांच पड़ताल जारी है। हालांकि घटना को क्यों अंजाम दिया गया है, इसमें कितने लोग शामिल थे इन सब सवालों का जवाब तैयार करने जरूरी हैं। वहीं मृतक परिवार का कहना है कि शक के चलते उनकी (नन्हें) हत्या की गई है लेकिन क्या यह बात ठीक है इसका पता लगने के लिए हत्यारों की गिरफ्तारी तक इंतजार करना होगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned