भारत के मुकाबले इटली में इतनी लेट होती हैं ट्रेनें

भारत के मुकाबले इटली में इतनी लेट होती हैं ट्रेनें

sharad asthana | Publish: Jun, 14 2018 12:25:55 PM (IST) Moradabad, Uttar Pradesh, India

13 मंडलों के प्रबंधक 15 दिन के टूर पर गए थे इटली, सुधर सकता है भारतीय ट्रेनों का टाइम शेड्यूल

मुरादाबाद। तमाम कोशिशों के बाद यात्री ट्रेनों का शेड्यूल पटरी पर नहीं लौट पा रहा। वहीं, रेलवे को अत्याधुनिक बनाने के लिए भारतीय रेल और इटली के मिलान एसबीए बकौनी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट में करार हुआ है। इसमें ट्रेनों के समय पर संचालन के साथ ही संरक्षा पर भी ध्यान दिया जाएगा। पिछले दिनों 13 मंडलों के प्रबंधक इटली में 15 दिन के टूर पर गए थे। वहां उन्होंने ट्रेनों के संचालन को समझा। वह अब उसे भारतीय रेल के संचालन में लाने की तैयारी में हैं। उनका दावा है कि इससे भारतीय ट्रेनों का टाइम शेड्यूल सुधर सकता है। इटली से लौटकर आए मुरादाबाद रेल मंडल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने अपने अनुभव साझा किए।

यह भी पढ़ें: IRCTC : रेलवे स्टेशन पर मुफ्त में उठाएं वाई-फाई का लाभ, ऐसे करें फोन कनेक्ट

भारत में 24 से 36 घंटे तक देरी से चल रही हैं ट्रेनें

उन्होंने बताया कि इटली में ट्रेन संचालन में अधिक से अधिक दो मिनट की देरी को भी बड़ी नाकामयाबी माना जाता है। वहां उन्हें ट्रेन से 500 किलोमीटर की यात्रा की, जो महज दो घंटे में पूरी हो गई। इस बीच कहीं भी कोई झटका नहीं लगा। इसके उलट भारत में आजकल ट्रेनें 24 से 36 घंटे तक देरी से चल रही हैं। डीआरएम के मुताबिक, इटली के मैनेजमेंट स्कूल में ट्रेनिंग के दौरान साझा हुई जानकारियों को लागू कर इस समय को कम किया जाना उनकी प्राथमिकता है।

यह भी पढ़ें: ट्रेन में सफर करने वालों के लिए बड़ी खबर, रेलवे ने शुरु की ये नई सुविधा, जानकर आप भी कहेंगे 'वाह'

इटली में इस वजह से नहीं लेट होती हैं ट्रेनें

उनका कहना है कि इटली के रेल संचालन में ट्रेनों का एवरेज टाइम भी अपने यहां से काफी कम है। यहां एक ट्रेन का एवरेज टाइम अगर दस से 30 मिनट लेट है, तो उसे लेट नहीं माना जाता। इसके मुकाबले वहां पांच मिनट से ज्यादा किसी ट्रेन का एवरेज टाइम नहीं है। इस कारण भी वहां ट्रेनें लेट नहीं होती हैं। भारत में आउटर व काशन पर ज्यादा समय लगता है। इस पर धीरे-धीरे अंकुश लगाकर टाइम को सुधारा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: यूपी के इस जिले में जल्द 180 किमी रफ्तार से चलेगी ऐसी ट्रेन जिसमें आएगा हवाई जहाज जैसा आनंद

पटरियों को बदलना भी एक कारण

ट्रेन संचालन में हो रही देरी के चलते यात्रियों को हो रही भारी परेशानी के सवाल पर डीआरएम का कहना है कि काफी समय से रेलवे की पटरियों को दुरुस्त नहीं किया गया था। खराब हो चुकी पटरियों को बदलने के चलते ट्रेन संचालन में बिलंब हो रहा है। साथ ही गर्मियों में पाॅवर प्लांट के लिए देश के पूर्वी हिस्सों से हर रोज कोयले की आपूर्ति बहाल करना आवश्यक हो गया है, इसलिए पैसेंजर गाड़ियों को तय समय पर पहुंचने में दिक्क्क्त हो रही है। डीआरएम के मुताबिक, अगले कुछ दिन में ट्रेन संचालन में हो रही देरी को दूर कर लिया जाएगा।

देखें वीडियो: बाथरूम में मोबाइल से हो रही थी रिकॉर्डिंग

स्वच्छता की ओर भी है ध्यान

इसके अलावा उन्होंने कहा कि भारत सरकार पहले से ही स्वच्छता अभियान को लेकर जागरूक है। अब यात्रियों को जागरूक कर रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में भी अभियान को गति दी जाएगी। स्वच्छता अभियान के लिए रेलवे स्टेशन पर उद्घोषणा, स्क्रीन पर वीडियो और ऑडियो क्लिप चलाई जाएंगी। इसके साथ ही स्कूली बच्चों को भी रेलवे स्टेशनों पर विजिट कराकर रेलवे जागरूक करेगा।

Ad Block is Banned