धोखाधड़ी केस में बयान दर्ज कराने मुरादाबाद पहुंची थीं सोनाक्षी सिन्हा, जांच अधिकारी ने खिंचवाई फैमिली फोटो

धोखाधड़ी केस में बयान दर्ज कराने मुरादाबाद पहुंची थीं सोनाक्षी सिन्हा, जांच अधिकारी ने खिंचवाई फैमिली फोटो

Jai Prakash | Updated: 14 Aug 2019, 11:51:11 PM (IST) Moradabad, Moradabad, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • धोखाधड़ी केस में बयान दर्ज कराने आयीं थीं सोनाक्षी सिन्हा
  • थाने के बजाय होटल में रुकीं रहीं सोनाक्षी सिन्हा
  • जांच अधिकारी ने परिवार संग खिंचाये फोटो

मुरादाबाद: आम अपराधी से पुलिस के बातचीत का तरीके से हम सभी परिचित हैं। अगर आरोपी कोई वीवीआईपी है तो पुलिस का रवैया आम नहीं रहता। जी हां इसकी झलक आज दोपहर में जनपद पुलिस को देखने को मिली। जिसमें 36 लाख की धोखाधड़ी के एक मामले में फिल्म अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा को थाने बुलाकर बयान दर्ज करने के बजाय होटल पहुंचकर जांच अधिकारीयों ने उनका बुके देकर स्वागत करवाया। यही नहीं जांच अधिकारी अपनी फैमिली लेकर सोनाक्षी सिन्हा के पास होटल में पहुंच गए और फोटो खिंचवाए। वहीँ सोनाक्षी के शहर में आने की खबर पहले मीडिया से छुपाई गयी। उसके बाद जब फोटो वायरल हुए तो अब पुलिस अधिकारीयों को जवाब देते नहीं बन रहा है।

स्वतंत्रता दिवस से पहले हथियारों के जखीरे के साथ युवक का फोटो वायरल, पुलिस में मचा हड़कंप

इतनी देर रुकीं होटल में
जानकारी के मुताबिक सोनाक्षी सिन्हा मुरादाबाद रामपुर रोड स्थित होटल क्लार्क इन में लगभग 12 बजकर 08 मिनट में दाखिल हुईं और 2 बजकर 48 मिनट पर वहां से निकल गयीं। लगभग तीन घन्टे वो होटल में रुकीं और यहीं पुलिस ने उनके बयान दर्ज किए। वहीँ इस दौरान पुलिस ने किसी भी मीडिया कर्मी को अंदर नहीं जाने दिया। जबकि खुद परिवार समेत फोटो खिंचाते रहे।

जेब में रखते ही धमाके के साथ फटा मोबाइल, गंभीर रूप से युवक घायल

वकील को भेजा थाने

यही नहीं धोखाधड़ी केस में सोनाक्षी ख़ुद थाने नहीं गयीं बल्कि उनके वकील थाने पहुंचे। पुलिस के मुताबिक सोनाक्षी सिन्हा का बयान जांच अधिकारी ने होटल में ही दर्ज कर लिया है। सोनाक्षी सिन्हा के साथ उनके वकील और भाई भी मुरादाबाद पहुंचे थे। सोनाक्षी लगभग तीन घंटे रुकीं और वहीं से वापस दिल्ली चली गयीं थीं।

दारुल उलूम देवबन्द के खिलाफ नफरत फैलाने वाले पोस्ट वायरल करने वालों को पुलिस ने ऐसे सिखाया सबक

आरोपों को नकारा
यहां बता दें कि प्रमोद शर्मा नाम के व्यक्ति ने फरवरी महीने में कटघर थाने में सोनाक्षी सिन्हा सहित पांच आरोपियों के खिलाफ अपराधिक साजिश रचने, धोखाधड़ी और मिलीभगत कर 36 लाख रूपये लेने के बाद भी कार्यक्रम में आने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था।

महिलाओं ने 'बाहुबली' को राखी बांधकर मनाया रक्षाबंधन, पेश की अनोखी मिसाल, देखें वीडियो

इस मामले की जांच कर रहे कटघर थाने के सब इंस्पेक्टर अजय कुमार के मुताबिक सोनाक्षी सिन्हा ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया है। वहीं सोनाक्षी सिन्हा के वकील मुनेश प्रेम जी का कहना है कि पार्टी ने अग्रीमेंट कि शर्तों का पालन पूरे तरीके से नहीं किया जिसकी वजह से सोनाक्षी सिन्हा तय कार्यक्रम नहीं पहुंची थी। उन पर जो भी आरोप लगाये हैं वे सभी झूठे हैं।

यूपी पुलिस ने लोगों को बांटे 47 स्मार्ट फोन, सच्चाई जानकर लोग कर रहे हैं तारीफ

वीआईपी ट्रीटमेंट पर चर्चा
पिछले महीने जब मुरादाबाद पुलिस सोनाक्षी सिन्हा के बयान लेने मुंबई गयी थी । तो वे शूटिंग की वजह से नहीं मिलीं थीं। जिस पर पुलिस ने उन्हें नोटिस भेजा था।जिस पर आज सोनाक्षी सिन्हा वकील के साथ मुरादाबाद पहुंची थीं। लेकिन पुलिस ने जिस प्रकार इस वीवीआईपी आरोपी की आवभगत की वो किसी की समझ नहीं आ रही।

सपा नेताओं ने Azam Khan के जन्मदिन पर किया ऐसा काम, जानकर आप भी करेंगे तारीफ- देखें वीडियाे

वादी ने जताया ऐतराज
उधर इस मामले के वादी प्रमोद शर्मा ने बताया कि पुलिस ने उन्हें सोनाक्षी सिन्हा के मुरादाबाद आने की कोई जानकारी नहीं दी। जिस प्रकार आज पुलिस का सोनाक्षी सिन्हा को लेकर रवैया रहा उससे उन्हें संदेह है कि जांच में उनके साथ इन्साफ होगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned