Moradabad: प्रवासी मजदूरों से भरी गाड़ी टैंकर से टकराई, दो दर्जन मजदूर घायल, नौ की हालत नाजुक

Highlights
-पंजाब से पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए वाहन कर निकले थे मजदूर
-छजलैट थाना क्षेत्र में खड़े टैंकर से टकरा गयी गाड़ी
-नौ प्रवासी मजदूरों की हालत नाजुक

By: jai prakash

Published: 10 May 2020, 04:03 PM IST

मुरादाबाद: जनपद के छजलैट थाना क्षेत्र में आज उस वक्त चीख पुकार मच गयी, जब मजदूरों से भरी एक पिकअप वैन हरिद्वार हाइवे पर खड़े टैंकर से टकरा गयी। इसमें दर्जन भर से अधिक मजदूर गंभीर रूप से घायल हैं। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि नौ की हालत नाजुक है, जिन्हें प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मजदूरों को अवैध रूप से भेजने पर पंजाब के कम्पनी संचालक पर मामला दर्ज कर लिया है।

Breaking: लॉकडाडन के बीच भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने किया सरकार के खिलाफ 12 मई को सांकेतिक विरोध प्रदर्शन का ऐलान

नौ की हालत नाजुक
छजलैट थाना क्षेत्र स्थित हरिद्वार सड़क मार्ग पर आज हादसे में पच्चीस प्रवासी मजदूर घायल हो गए। पूर्वी उत्तर प्रदेश,कुशीनगर और बिहार के रहने वाले घायल मजदूरों को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया है। पंद्रह घायल मजदूरों को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है जबकि नौ नाजुक हालत वाले मजदूर कॉस्मॉस अस्पताल भिजवाए गए है। दो मजदूरों को निजी अस्पताल विवेकानन्द में इलाज दिया जा रहा है। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन में हड़कम्प मच गया।

शव दफनाने को लेकर दो पक्ष आए आमने-सामने, दिखा हैरान करने वाला मंजर

यहां हुआ हादसा
अधिकारियों ने डीसीएम गाड़ी से मजदूरों के आने को लेकर जांच की तो मजदूरों के पास कम्पनी संचालक का एक पत्र मिला जिसमें मजदूरों द्वारा अपनी मर्जी से वाहन की व्यवस्था कर घर वापस भेजने की बात कही गयी है। छजलैट थाने में पुलिस द्वारा टैंकर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है, साथ ही टैंकर को कब्जें में लिया गया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गलत तरीके से मजदूरों को घर भेजने वाले कम्पनी संचालक के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। घटना की जानकारी प्रवासी मजदूरों के परिजनों को दे दी गयी है। जिला प्रशासन अब मजदूरों को इलाज के बाद वापस उनके घर भेजने की तैयारी कर रहा है।

फंसे श्रमिकों को घर भेजने के लिए खुद डीएम ने संभाली कमान, इस तरह बनाई गई व्यवस्था

जारी है पलायन
यहां बता दें कि लॉक डाउन में हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूर पैदल, साईकिल या फिर जान जोखिम में डाल इस तरह के वाहनों से घर की ओर जा रहे हैं। जिसने सरकार के दावों की पोल खोल दी है। फ़िलहाल सभी मजदूरों का पलायन जारी है।

Show More
jai prakash Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned