Teen Talaq के फैसले पर आजम बोले- कोई राजनीतिक दल नहीं कर सकता इस्‍लाम धर्म में बदलाव

Teen Talaq पर Supreme Court के फैसले के बाद आजम खान ने साधा भाजपा पर निशाना

By: lokesh verma

Updated: 22 Aug 2017, 03:34 PM IST

रामपुर. Teen Talaq पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए एतिहासिक फैसले से देश की राजनीति में भूचाल आ गया है। सभी राजनीतिक पार्टियां तीन तलाक पर अपना पक्ष बेबाकी से रख रही हैं। वहीं इस पर समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान ने बिना नाम लिए भाजपा पर हमला बोला है। उन्‍होंने कहा कि कोई राजनीतिक दल इस्‍लाम धर्म में तब्‍दीली नहीं कर सकता। साथ ही उन्‍होंने कहा कि वे न्‍यायालय के फैसले का सम्‍मान करते हैं।

 

यह भी पढ़े- मुस्‍िलम महिलाओं के हक की लड़ाई लड़ने वाली रेहाना बोलीं- अब मिली आजादी

यह भी पढ़े- तीन तलाक पर फैसला आज: पीड़िताओं ने कहा- भारत में भारत का कानून लागू हो शरीयत का नहीं

आजम ने कहा कि Supreme Court के बाद अब मामला जनता की अदालत यानि संसद में पहुंच गया है। अगर वाकई में देश में लोकतंत्र का कुछ हिस्‍सा बाकी है तो धार्मिक आस्‍थाओं से खिलवाड़ नहीं होगा। उन्‍होंने कहा कि अगर संसद Triple Talaq पर कानून बनाती है तो उसमें इस्‍लामिक विद्वानों की राय को जरूर शामिल किया जाना चाहिए। क्‍योंकि धर्मगुरु और विद्वान लोग राजनीति से प्रेरित नहीं होते हैं। वे किसी राजनीतिक दल के वफादार नहीं होते हैं। उनकी वफादारी सिर्फ धार्मिक और मजहबी विचारधारा से होती है। उन्‍होंने कहा कि वे इसलिए संसद से उम्मीद करते हैं कि संसद तीन तलाक को लेकर जो भी कानून बनाएगी वह मुसलमानों के धर्म आस्था के आधार पर होगा। इसमें दुनियाभर के इस्लाम के विद्वानों की राय भी ली जाएगी।

इस दौरान उन्‍होंने भाजपा का नाम लिए बगैर कहा कि किसी पार्टी की हूकूमत होने से किसी का धर्म नहीं बदल जाता। कोई भी राजनीतिक दल इस्‍लाम धर्म में बदलाव नहीं कर सकता है और न ही हिन्‍दू धर्म में परिवर्तन कर सकता है। उन्‍होंने कहा कि धर्म और धार्मिक आस्‍थाओं में किसी राजनीतिक दल का कोई रोल नहीं होना चाहिए, अगर ऐसा होता है तो ये गलत तरीका होगा।

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned