ठंड में साथ छोड़ रही सरकारी 'आग'

ठंड में साथ छोड़ रही सरकारी 'आग'
cold

sandeep tomar | Publish: Dec, 28 2016 07:34:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

ठंड के कारण गरीबों के लिए रात काठना भारी पड़ रहा है

मुरादाबाद: दिसम्बर के पहले सप्ताह से जारी ठंड और शीत लहर का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा, इस कंपकंपाती ठंड में गरीबों और रात बाहर गुजारने वाले लोगों के लिए शासन स्तर से अलाव की व्यवस्था की जाती है. जिसे स्थानीय प्रशासन निश्चित स्थानों पर रखवाता है. लेकिन मुरादाबाद में इन दिनों घोर लापरवाही देखने को मिल रही है, पहले तो सप्ताह भर गुजर गया और कहीं अलाव की व्यवस्था नहीं करवाई गयी, वहीं अब कुछ जगह किया भी गया है तो वो भी इतना कम की रात ग्यारह बजे तक ही अलाव खत्म हो रहा है, जिस कारण रेलवे स्टेशन या आस—पास रहने वाले बेसहारा ठंड में ठिठुरने को मजबूर हैं.

11 बजे खत्म हो जाता है अलाव

गरीब और बेसहारा का सहारा सिर्फ ऊपर वाला ही होता है ये नजारा इन दिनों मुरादाबाद में कई जगह देखने को मिल रहा है. शहर में चिन्हित स्थानों पर जो प्रशासन द्वारा अलाव की व्यवस्था की गयी है उसमें मात्र कुछ ही जगह अलाव जल पा रहे हैं। वहीं कई जगह तो सिर्फ ग्यारह बजे तक ही अलाव खत्म हो जा रहा है. रेलवे स्टेशन पर रिक्शा चलाने वाले मनोज कहते हैं कि साहब गाड़ी आती है और कुछ लकड़ियां रखकर चली जाती है, हम लोग जला लेते हैं लेकिन पूरी रात अभी भी नहीं जल पा रही. यही हाल रोडवेज और पीएसी तिराहे का भी है. कई जगह तो रिक्शा चालक अखबार जलाकार काम चला रहे हैं.

जारी है ठंड से जंग

बहरहाल ये नजारा मंगलवार रात का है लेकिन जब पता किया गया तो पता चला की रोजाना यही होता है. फ़िलहाल हाड़ कंपाऊ ठंड से गरीबों की जंग जारी है. वहीं अपर नगर आयुक्त के मुताबिक अलाव की महानगर में समुचित व्यवस्था की गयी है, अगर कहीं कोई शिकायत आती है तो जांच की जाएगी.
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned