Lockdown: सपा सांसद ने मदद की बजाय लेटर थमा भेज दिया डीएम के पास, वायरल होने के बाद लोग कर रहे आलोचना

Highlights
-पूरे देश में 14 अप्रैल तक चल रहा है लॉकडाउन
-सभी प्रकार के उद्योग धंधे चल रहे हैं बंद
-पीतल मजदूर सांसद के पास पहुंचा था मदद मांगने
-मदद की बजाय सांसद ने पत्र लिखकर डीएम के पास भेज दिया

By: jai prakash

Published: 01 Apr 2020, 02:58 PM IST

मुरादाबाद: कोरोना महामारी से निपटने के लिए देश भर में तमाम संगठन सरकार के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर साथ खड़े हैं। वहीँ मुरादाबाद से सांसद डॉ एस टी हसन का एक लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जिसमें उन्होंने एक गरीब व्यक्ति के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा है। अब लोग इस पत्र को लेकर सांसद को आड़े हाथों ले रहे हैं, लोग कह रहे हैं एक गरीब की मदद तो खुद सांसद कर सकते हैं। जब सरकार पर इस तरह का दबाब है तो ये सांसद का व्यवहार नहीं होना चाहिए। सांसद का लेटर वायरल होने के बाद अभी उनकी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

Breaking: मेरठ में कोरोना से बुजुर्ग की मौत

पहुंचा था मदद मांगने
वायरल लेटर के मुताबिक शहर के वारसी नगर निवासी मोहम्मद वसीम पीतल कारीगरी में पौलिश का काम करता है, लॉक डाउन होने की वजह से सारे उद्योग धंधे बंद हैं। जब वो सांसद के पास राहत के लिए पहुंचा तो मदद के बजाय सांसद एस टी हसन ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर उसके लिए खाने-पीने का इंतजाम करने को कहा। ये जब सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो अब सांसद को जबाब देते नहीं बन रहा है। लोग सांसद एसटी हसन की जमकर आलोचना कर रहे हैं। सांसद की इस हरकत को गैर जिम्मेदार बता रहे हैं और बोल रहे हैं जब चुनाव में करोड़ों खर्च कर सकते हैं तो क्या एक गरीब की मदद के लिए उनके पास हजार दो हजार रूपए नहीं थे।

NOIDA: कोरोना वायरस के 3 नए केस आए सामने, 4 संदिग्धों की रिपोर्ट भी आई पॉजिटिव, संख्या पहुंची 45

नहीं आया कोई बयान
फ़िलहाल इस मामले में अभी सांसद का कोई बयान और न ही उनकी तरफ से किसी प्रतिनधि का बयान आया है। उधर सरकारी मशीनरी हर जरुरत मंद को राशन के साथ खाने-पीने का इंतजाम कर रही है।

Show More
jai prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned