तो इसलिए कैराना उपचुनाव से पहले अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव गए थे रामपुर

किया गया था इस बड़े कार्यक्रम का आयोजन

By:

Published: 14 May 2018, 07:00 PM IST

रामपुर। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव सोमवार को मौलाना मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय के पहले दीक्षांत समारोह में शामिल होने रामपुर पहुंचे। इस दौरान सपा नेता आज़म खान ने उन्हें हेलीपेड से रिसीव किया और मंच की ओर ले गए।

यह भी पढ़ें-यूपी के इस गांव में तूफान के दौरान आकाशीय बिजली ने ढाया कहर, 3 की मौत व 8 घायल

इस कार्यक्रम में विश्वविद्यालय के संस्थापक आजम खान ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को डीलिट् (डॉक्टर ऑफ लिटरेचर) की मानद उपाधि से नवाजा। यह मानद उपाधि मिलने के बाद अखिलेश यादव के नाम के आगे अब डॉ. शब्द जुड़ा गया है। उन्होंने अब डॉ. अखिलेश यादव लिखने की योग्यता प्राप्त कर ली है। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नालंदा विश्वविद्यालय के कुलपति रहे। इस मौके पर यूनिवर्सिटी के करीब 800 छात्र-छात्राओं को अखिलेश यादव ने गोल्ड मेडल प्रदान किए।

यह भी पढ़ें-अखिलेश यादव ने हासिल की एक और बड़ी उपलब्धि, उनके नाम के आगे जुड़ा ये शब्द

इस दौरान छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि आप यहां से पढ़कर अपने ज़िले के विश्वविद्यालय का नाम रोशन करेंगे तो उससे आपके प्रदेश और आपके देश का नाम रोशन होगा। इसके लिए कमर तोड़ मेहनत करें। साथ ही उन्होंने कहा कि इतनी गर्मी में आपके अच्छे सुनहरे भविष्य के लिए हम कुर्ता पजामा पहने हैं, उसके अलावा कोटी पहना हुआ है। ऊपर से यह गाउन और सर पे टोपी लगाए हूं। गर्मी लगती है, लेकिन आपकी खुशियों और आपके अच्छे भविष्य के लिए सब हाजिर है। उन्होंने कहा कि भारत में कई विश्वविद्यालय हैं, लेकिन यह सबसे बाद में बना, जिसकी नींव मेरे पिता मुलायम सिंह यादव के हाथों आज़म साहब ने रखवाई तो उसकी आन बान शान तीनों की हमारी जिम्मेदारी बनती है।

यह भी पढ़ें-कैराना-नूरपुर उपचुनाव से पहले रालोद नेता की बड़ी मांग, इन भाजपा नेताओं को चुनाव क्षेत्र में न जाने दिया जाए

सरकार ने कुछ पैसा रोक लिया वरना यहां और अच्छा मंच देखने को मिलता। अखिलेश बोले जब से यह सरकार प्रदेश और केंद्र में आई है तब से सड़कों का पुलों का और बाकी के जनहित के कार्यों का पैसा रोक लिया। सरकार आने पर सब पूरा करने का काम हमारी सरकार करेगी। छात्रों से अखिलेश यादव ने एक बार फिर जाते हुए कहा कि आप पढ़ें और इतना पढ़ें कि देश के काम आएं।

यह भी देखें-बहू का चल रहा था अवैध संबंध, जब सास को लगी भनक तो प्रेमी ने उसके साथ कर दिया ये काम

कार्यक्रम में सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी एडिशनल एसपी सुधा सिंह ने संभाली। दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों पिता-पुत्र की सुरक्षा के मद्देनजर जेड सुरक्षा का घेरा तैयार किया गया था। साथ ही जिले भर की पुलिस फोर्स दोनों पूर्व सीएम की सुरक्षा व्यवस्था की कमान संभालने के लिए सुबह से ही अपनी-अपनी ड्यूटी पर लग गई थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned