सपा के कद्दावर नेता आजम खान पर करोड़ों की गड़बड़ी का आरोप, प्रशासन ने जारी किया नोटिस

आज़म खान के ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी पर छाए संकट के बादल, जमीन गड़बड़ी के आरोपों को लेकर आजम खान को प्रशासन का नोटिस

By: sharad asthana

Published: 09 Dec 2017, 02:00 PM IST

रामपुर । समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आज़म खान के ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी को लेकर प्रशासन की ओर से एक नोटिस चस्पा दिया है। वहीं ये पहली बार है कि किसी अधिकारी ने ऐसा कोई नोटिस चस्पाया है। हालांकि नोटिस चस्पाये जाने को लेकर आज़म खान साहब की तरफ से कोई प्रतिक्रया तो नहीं आई है। लेकिन इस नोटिस के जरिए प्रदेश में एक बार फिर से सियासी हलचल तेज हो गई है। जानकारी के मुताबिक नोटिस इलाहबाद रेवेन्यू बोर्ड ने भेजा है, जिसमें सपा नेता आज़म खान को आगामी 20 दिसम्बर को बुलाया है, वहीं नोटिस में लिखा गया है कि वह बोर्ड को बताएं कि उन्होंने सरकार में एक जिम्मेदार पद पर रहकर कैसे नियमों की अनदेखी कर अपने व्यकितगत फायदे के लिए करोड़ों की ज़मीन फ़्री में ली ।

क्या है यह पूरा मामला ?
दरअसल पूर्व की सरकार में मंत्री रहे शिव बहादुर सक्सेना के बेटे आकाश हनी ने मौजूदा ज़िला अधिकारी शिव सहाय समेत उत्तर प्रदेश सीएम सहित कई मंत्रियों को सपा नेता आज़म खान की शिकायतें की थीं। उन्हीं शिकायतों की जब जांच रिपोर्ट आई तो ज़िला अधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने इलाहाबाद रेवेन्यू बोर्ड में सपा नेता आज़म खान के खिलाफ एक केस दर्ज किया, और उसकी केस की सुनवाई करते हुए बोर्ड ने सपा नेता आज़म खान को एक नोटिस भेज बुलाया है ।

आज़म खान पर क्या हैं आरोप ?
सपा नेता आज़म खान पर आरोप हैं कि उन्होंने सरकारी चकरोट की भूमि पर कब्ज़ा कर अपने ड्रीम प्रोजेक्ट जौहर यूनिवर्सिटी केम्पस में ले लिया। इसके अलावा कुछ ज़मीन विनिमय की गई जिसमें बड़े स्तर पर गड़बड़ी की गई। गड़बड़ी यह कि आज़म खान ने अपनी बेकार जमीन के बदले करोड़ों की जमीन हथिया ली जबकि जमीन की रेट वेल्यू निकाल कर उसकी रकम राजस्व को जमा करनी होती है , लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसके अलावा और कई गड़बड़ी हैं जिनको लेकर डीएम शिव सहाय अवस्थी कोर्ट गए ।

गौरतलब है कि रामपुर ज़िले में सपा नेता आज़म खान का ड्रीम प्रोजेक्ट है जौहर यूनिवर्सिटी ने इसके लिए उन्होंने बहुत मशक्कत की है लेकिन अब उनकी बड़ी मसक्कत पर सवाल खड़े हो रहें हैं । अब देखना दिलचस्प होगा कि सपा नेता आज़म खान पर लगाये गए आरोपों में सत्यता है या फिर आज़म खान पर लगाए गए आरोप निराधार है इसका फैसला भी अब बोर्ड करेगा ।

Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned