UP BOARD EXAM 2018: बोर्ड परीक्षा पर उठे सवाल,अंग्रेजी के पेपर में छात्र कर रहा था नक़ल सीसीटीवी में हुआ कैद

कक्ष निरीक्षक के पड़ोस में बैठा छात्र पर्चियों से नक़ल कर रहा था,जिसकी भनक कक्ष निरीक्षक को भी नहीं लगी ।

By: jai prakash

Published: 09 Feb 2018, 05:33 PM IST

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश में नकल माफियाओं पर रोक लगाने के लिए भले ही इस बार हाई स्कूल और इंटर की परीक्षा सीसीटीवी की निगरानी में कराई जा रही हो। लेकिन बावजूद इसके नकल करने वाले बाज नहीं आ रहे। कुछ ऐसा ही मामला जनपद के ठाकुरद्वारा क्षेत्र में सामने आया है। यहां बिलकुल कक्ष निरीक्षक के पड़ोस में बैठा छात्र पर्चियों से नक़ल कर रहा था,जिसकी भनक कक्ष निरीक्षक को भी नहीं लगी ।जब सचल दल वहां तलाशी लेने पहुंचा तो छात्र को पकड़ा गया। जबकि सीसीटीवी में भी पूरी घटना दर्ज है।इसलिए कक्ष निरीक्षक की भूमिका पर सवाल खड़ा हो रहा है। केंद्र व्यवस्थापक ने आरोपी छात्र के खिलाफ नकल अधिनियम में कार्यवाही कर दी है।

यह भी पढ़ें कूड़े के ढेर से आ रही थी एेसी एेसी आवाजें, पास जाकर लोगों ने देखा तो उड़ गये होश

यह भी पढ़ें यूपी पुलिस के इस इंस्पेक्टर ने बचाई दो बच्चों की जान, अब हर कोई कर रहा सलाम, देखें वीडियो-

जनपद में नकलविहीन परिक्षा कराने के लिए कड़े प्रबंध किये गए हैं। सी सी टी वी की निगरानी में परीक्षाएं कराई जा रही हैं ।सचल दल चैकिंग कर रहे हैं। और नकल को रोकने के लिए सरकार ने एसटीएफ को भी लगा रखा है। लेकिन उसके बावजूद भी मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा में सनातन धर्म हिन्दू इन्टर कोलेज में एक हाई स्कूल का छात्र विक्की सिंह अंग्रेजी की परीक्षा में नक़ल करते हुए पकड़ा गया है। उसके पास से नक़ल की 7 पर्चियां बरामद की गयी है। केंद्र व्यवस्थापक विक्रम सिंह ने उसकी उत्तर पुस्तिका और नकल सामग्री कब्जे में लेकर पुलिस को लिखित सूचित करने के बाद उचित कार्यवाही शुरू कर दी गयी है।

 

 

 

यह भी पढ़ें यूपी में पहली बार काजी और पंडितों ने एक साथ 131 जोड़ों की शादियां कराकर बनाया रिकॉर्ड, देखें वीडियो

यह भी पढ़ें VIDEO;आखिर ऐसा क्या हुआ जो मुरादाबाद कचहरी में मच गया हडकंप,जानिए इस खबर में

 

 

चैकिंग के दौरान नकल करते हुए छात्र को सचल दल द्वारा पकड़ने की घटना सी सी टी वी में कैद है। गौर करने की बात ये है कि छात्र कक्ष निरीक्षक के बगल में बैठा है और उसके बाद भी नकल की घटना को अंजाम दे रहा था। अगर कक्ष निरीक्षक ऐसे ही अपनी ड्यूटी करेंगे तो प्रदेश सरकार के नकल विहीन परीक्षा का सपना सपना ही रह जाएगा। फ़िलहाल नकलची छात्र को दूसरी उत्तरपुस्तिका दे दी गयी है।

jai prakash
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned