काम की खबर: अब घर बैठे पाएं अपना बिजली का बिल

मुरादाबाद शहर के तीन बिजली घरों में लागू की गई whatsapp की सुविधा

By: lokesh verma

Published: 15 Jan 2018, 09:41 AM IST

मुरादाबाद. शहर के बिजली उपभोक्ताओं के लिए विद्युत विभाग ने अच्छी पहल की है। जी हां, अब मीटर रीडर के समय पर न पहुंचने से उपभोक्ताओं को घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि शहरी उपभोक्ताओं की इस समस्या को देखते हुए विभाग ने एक फोन नम्बर जारी किया है। जिस पर पुराना बिल व्हाट्सएप करने पर उन्हें नया बिल भेज दिया जाएगा। ज्ञात हो कि समय पर बिल न आने से जहां उपभोक्ता परेशान रहते थे और उनके कनेक्शन काटने तक की नौबत आ जाती थी।

यह भी पढ़ें- स्ट्रीट वेंडर जोन ठंडे बस्ते में, भुखमरी की कगार पर सैकड़ों परिवार

पीतल नगरी उपखंड अधिकारी विशाल कंसल ने बताया की बड़ी संख्या में उपभोक्ता शिकायत कर रहे थे कि उन्हें समय से बिजली का बिल नहीं मिल पाता है। जिसके लिए हमने तकनीक के सहारे चलाने की कोशिश की है। इसके तहत उपभोक्ता के समय की बचत के साथ ही विभाग की उर्जा भी बचेगी। विशाल कंसल के मुताबिक अब उपभोक्ताओं को अपने मोबाइल से मात्र मीटर की रीडिंग और पुराने बिल की फोटो खींचकर विभाग के सीयूजी नम्बर पर भेजनी है। उसके बाद यहां से रिकॉर्ड मिलाकर उपभोक्ता के मोबाइल पर ही बिजली का बिल भेज दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- आग के हादसों से निपटने के लिए कितना तैयार है आपका गाजियाबाद

शहर के तीन बिजली घरों में लागू

बता दें कि पीतल नगरी बिजली घर से 21 हजार उपभोक्ताओं को आपूर्ति दी जा रही है। यह व्यवस्था अभी शहर के 27 में से तीन बिजली घरों में लागू की गई है। यह व्यवस्था पीतल नगरी उपखंड अधिकारी विशाल कंसल ने चालू की है। उनको इस व्यवस्था को चालू करने के लिए किसी अधिकारी ने निर्देश नहीं दिया, बल्कि कंसल ने खुद ही पहल कर उपभोक्ताओं को यह सुविधा दी है। वहीं अब इस व्यवस्था को पूरे शहर में भी लागू करवाने की बात अब विद्युत विभाग के अधिकारियों द्वारा कही जा रही है।

लोगों को काफी राहत

स्थानीय निवासी रमेश सिंह के मुताबिक इस तकनीक से उन जैसे कामकाजी लोगों को काफी राहत मिली है। अभी तक मीटर रीडर समय से न आने का खामियाजा उन्हें उठाना पड़ता था, लेकिन अब मोबाइल के प्रयोग से वे विद्युत कनेक्शन कटने से बच जाएंगे।

यह भी पढ़ें- जबरन शादी के बाद लगातार रेप फिर धोखे से गर्भपात, अब कर रहा ऐसी हरकत

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned