एक महीने बाद खुला स्कूल का ताला, जानें क्या है मामला?

Mahendra Rajore

Publish: Nov, 14 2017 12:52:17 (IST)

Morena, Madhya Pradesh, India
एक महीने बाद खुला स्कूल का ताला, जानें क्या है मामला?

पत्रिका की खबर का असर: अधिकारी कर रहे हैं लगातार मॉनिटरिंग

मुरैना. जन शिक्षा केन्द्र हिंगोनाखुर्द के अंतर्गत संचालित शासकीय प्राथमिक विद्यालय हरफूल का पुरा में पिछले एक माह से लगे ताले को खोल दिया गया है। अब नियमित कक्षाएं लग रही हैं। पत्रिका ने 7 नवंबर को 'एक माह से पड़ा है सरकारी स्कूल में तालाÓ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। इस खबर को कलेक्टर व डीपीसी ने गंभीरता से लिया और स्कूल का ताला खुलवाकर कक्षाएं नियमित लगाना शुरू कर दिया है।
हरफूल का पुरा में वर्ष 1998 में गांव के एक व्यक्ति ने शिक्षा गारंटी शाला खोली थी। वह स्वयं उसमें गुरुजी बन गया था। वर्ष 2003 में गारंटी शालाओं को प्राइमरी स्कूल में मर्ज किया गया। 2010 तक गांव के शिक्षक ने स्कूल का ठीक से संचालन किया, लेकिन उसके बाद वह अचानक तीन चार साल के लिए गायब हो गया था। जब लौटकर आया तो मानसिक संतुलन ठीक न होने पर उपद्रव करने लगा। कुछ समय तक उसका इलाज चला, लेकिन पिछले डेढ़ माह से उसने फिर से गांव में उपद्रव करना शुरू कर दिया है। अधिकारियों के अनुसार उक्त व्यक्ति द्वारा स्कूल के कक्षों में गंदगी फेंक देना, स्कूल न लगने देना, कोई शिक्षक पढ़ाने जाए तो उससे झगडऩा आदि हरकतों के चलते स्कूल नहीं लग पा रहा था। इस स्कूल में पांच अक्टूबर 2017 से ताला पड़ा था। अधिकारियों की सुस्ती के चलते स्कूल का ताला नहीं खुल सका था, लेकिन पत्रिका में खबर प्रकाशित होने पर कलेक्टर ने अधीनस्थों को टाइट किया और हर हाल में स्कूल खुलवाने के निर्देश दिए। उसके बाद डीपीसी ने स्वयं हरफूल का पुरा में दो दिन जाकर स्कूल का संचालन करवाया। इसके बाद बीआरसी, सीएसी लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं। अब स्कूल नियमित संचालित किया जा रहा है।

शासकीय प्राथमिक विद्यालय हरफूल का पुरा में अब नियमित स्कूल का संचालन किया जा रहा है। पागल शिक्षक आया था, लेकिन उसको वहां से खदेड़ दिया। बीआरसी, सीएसी लगातार स्कूल की मॉनिटरिंग कर रहे हैं।
एमएस तोमर, डीपीसी, मुरैना

प्रदर्शन में शामिल हुए कर्मचारी कांग्रेस पदाधिकारी
मुरैना. कर्मचारियों की लंबित मांग व स्थाई कर्मियों को पेंशन दिलाने सहित अन्य मांगों को लेकर 12 नवंबर को भोपाल में कर्मचारी कांग्रेस का प्रदर्शन हुआ, उसमें मुरैना से भी कर्मचारी कांग्रेस के पदाधिकारी शामिल हुए। प्रमुख प्रांतीय महामंत्री अशोक डंडोतिया ने बताया कि सभी प्रांतीय पदाधिकारी व जिलाध्यक्षों की अगुआई में मंत्रालय पर अद्र्धनग्न प्रदर्शन किया तथा सरकार को चेतावनी दी कि समस्याओं का निराकरण शीघ्र नहीं किया तो आगामी समय में कर्मचारी कांग्रेस संघर्ष करेगी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned