scriptAction against illegal colonies could not proceed beyond formality | औपचारिकता बनी अवैध कॉलोनियों के खिलाफ कार्रवाई, जिले में बस रही हैं नई अवैध कॉलोनियां | Patrika News

औपचारिकता बनी अवैध कॉलोनियों के खिलाफ कार्रवाई, जिले में बस रही हैं नई अवैध कॉलोनियां

पूर्व में बसी कॉलोनियों को वैध करने की प्रक्रिया भी अधर में, जिले में एक सैकड़ा से ज्यादा अवैध कॉलोनियां बन रही हैं

मोरेना

Published: December 18, 2021 08:13:32 pm

मुरैना. अनुबंध के आधार पर और अवैध तरीके से प्लॉटिंग और कॉलोनियां विकसित करने का सिलसिला थमा नहीं है। जिले में 100 से ज्यादा स्थानों पर नियम-कायदों को ताक पर रखकर कॉलोनियों का विकास किया जा रहा है। हैरानी की बात यह है कि एक साल पहले जहां अवैध विकसित कॉलोनियों पर कार्रवाई का दावा किया गया था, वहां काम अभी रुका नहीं है। लेकिन अब प्रशासन की कार्रवाई थम गई है।

patrika_mp_5.png

कहां-कहां विकसित हो रही कॉलोनियां
मुरैना में जौरा रोड, ग्वालियर रोड से सटे इलाकों, अंबाह रोड, धौलपुर रोड के अलावा जगतपुर रोड पर भी कॉलोनियां विकसित की जा रही हैं। जबकि अंबाह में पोरसा रोड, मुरैना रोड, उसैदघाट रोड, खजूरी रोड पर कॉलोनियां बन रही हैं। इसी प्रकार पोरसा में भिण्ड रोड, अटेर रोड, अंबाह रोड, जौटई रोड, किर्रायंच रोड पर कॉलोनियां बन रही हैं। जौरा में मुरैना रोड, कैलारस, रोड, पगारा रोड सहित अन्य स्थानों पर कॉलोनियां बन रही हैं। कैलारस में भी एक दर्जन से अधिक कॉलोनियां बन रहीं और सबलगढ़ मे भी अवैध कॉलोनियां तेजी से विकसित हो रही हैं। बानमोर में शनीचरा रोड, सीतापुर रोड, रिंग रोड पर कॉलोनियां बन रही हैं।

सरकारी जमीनें भी घेर लीं लोगों ने
सबलगढ़ में अटारघाट रोड पर कॉलोनियों के विकास के साथ ही यहां सरकारी जमीन भी लोगों द्वारा घेरे जाने की खबरें आईं। शहर से लगे हुए कुछ अन्य सरकारी स्थानों पर भी लोगों ने कब्जा कर लिया है। जिले भर में कई जगह सरकारी जमीन पर लोगों की नजर है।

पांच साल पहले हो चुके हैं जिलेभर में विवाद
करीब पांच साल पहले जिले में अवैध कॉलोनियों के विरुद्ध जब अभियान शुरू किए गए तो कई जगह विवाद की नौबतें भी आईं। अंबाह रोड पर एक कॉलोनी पर कार्रवाई का मामला राजनीतिक तूल पकड़ा और एक डिप्टी कलेक्टर स्तर के अधिकारी को बाद में यहां स्थानांतरण का सामना करना पड़ा। हालांकि उसे चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा था, लेकिन इससे अवैध कॉलोनियां बनाने वालों के हौसले बुलंद हुए।

अवैध रूप से विकसित हो रही कॉलोनियों में लोग थोड़े सस्ते के लालच में प्लॉट खरीद लेते हैं और मकान बनाने के बाद बुनियादी समस्याओं के लिए नगरीय निकायों पर अश्रित हो जाते हैं। अवेध कॉलोनियों का सिलसिला नगर निगम गठित हो जाने के बाहर शहरी क्षेत्र में ज्यादा बढ़ा है। हालांकि अंबाह, पोरसा, जौरा, बानमोर, कैलारस और सबलगढ़ के अलावा झुंडपुरा क्षेत्र में भी कॉलोनियां विकसित की जा रही हैं। लेकिर जब भी प्रशासन कार्रवाई करने का मन बनाता है, राजनीतिक हस्तक्षेप या लोभ-लालच प्रशासन के हाथ बांध देता है। पांच साल पहले जब बड़ी कार्रवाई शुरू की गई थी, तब भी राजनीतिक दखल के बाद कार्रवाई को टाल दिया गया था।

अवैध रूप से कॉलोनी बनाने वालों के खिलाफ पिछले पांच साल में एक दर्जन से ज्यादा एफआईआर भी दर्ज कराई गईं। वहीं संबंधित अनुविभगीय अधिकारी, राजस्व कार्यालयों में भी प्रकरण दर्ज किए गए, लेकिन उसके बाद की कार्रवाई ठंडे बस्ते में डाल दी गई। धौलपुर रोड पर एक कॉलोनी में प्लॉट खरीदने वाले अजब सिंह का कहना था कि उन्होंने जब बात की तो वहां उपलब्ध लोगों ने अपने नाम से जमीन का सौदा किया, लेकिन बाद में रजिस्ट्री करने के लिए दूसरे लोग आगे आए। बताया जाता है कि अवैध कारोबार करने वाले खेत या जमीन मालिक से बात कर कुछ अग्रिम देकर अनुबंध कर लेते हैं। इससे दो बार पंजीयन का खर्च बच जाता है। बाद में सीधे जमीन या खेत मालिक से प्लॉट की रजिस्ट्री करवा देते हैं। अपर कलेक्टर, मुरैना नरोत्तम भार्गव ने बताया कि अवैध कॉलोनियों पर तो कार्रवाई होती ही रहती है। अभी तो चुनाव प्रक्रिया चल रही है, इससे निपटने के बाद फिर दिखवाएंगे कहां क्या हो रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.