बानमोर में प्रशासन क्यों कर रहा है व्यापारियों के निर्णय का इंतजार! जानें वजह

प्रशासन को है व्यापारियों के निर्णय का इंतजार

By: rishi jaiswal

Published: 07 Jul 2020, 11:44 PM IST

बानमोर. नगर में कोरोना संक्रमण मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अधिकांश व्यापारी बाजार को सीमित समय के लिए खोलने के पक्ष में हैं लेकिन कुछ कथित व्यापारियों की मनमानी के चलते निर्णय पर आम सहमति नहीं बन पा रही है। पहले बाजार बंद और अब बाजार खोलने की समय सीमा निर्धारित की गई लेकिन एक राय न होने के कारण प्रशासन भी आगे नहीं आ रहा है। वह व्यापारियों के एक राय होने का इंतजार कर रहा है।

5 दिन पूर्व तहसीलदार रत्नेश शर्मा को बाजार की समय सीमा कम करने की मांग को लेकर दिए गए ज्ञापन को अधिकारी द्वारा रद्दी की टोकरी में डाल देने से व्यापारियों में प्रशासन के प्रति रोष व्याप्त है।

नगर में कोरोना संक्रमण के अभी तक 15 से अधिक पॉजिटिव मरीज पहुंच चुके हैं जिसको लेकर व्यापारियों में भय व्याप्त है। कोरोना संकमण को देखते हुए व्यापारियों ने विगत 1 जुलाई के दिन बाजार के खुलने का समय प्रात: 9 से शाम 5 बजे तक करने की सहमति जाहिर कर तहसीलदार को एक ज्ञापन दिया। जिसको लेकर व्यापारियों ने 6 जुलाई से दुकान प्रात: 9 बजे से शाम 5 बजे तक बाजार के खुलने का मन बना लिया लेकिन कुछ स्वार्थी दुकानदारों के बहकाने के कारण कुछ दुकानदार अधिकारियों के आने का इंतजार करने लगे।

व्यापारियों का कहना है कि यदि प्रशासन 5 बजे के बाद बाजार में आकर थोड़ी सी मदद कर देता तो दुकाने बंद हो जाती हैं। लेकिन ऐसा नहीं हुआ नगर में सुबह 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुल रहे बानमोर के बाजार में लोग सोशल डिस्टेंसिंग तथा मास्क का प्रयोग न करते हुए भारी भीड़ के साथ दुकानदारी कर रहे हैं लेकिन प्रशासन के अधिकारियों द्वारा अभी तक इस पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। इस बारे में तहसीलदार रत्नेश शर्मा का कहना है कि पहले बानम़ोर के व्यापारी आम सहमति बनाए उसके बाद कार्रवाई करेंगे।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned