वैक्सीनेशन के सर्वे में लगी आंगनवाड़ी सहायिका की लात-घूसों से पिटाई

कोविड-19 वैक्सीनेशन में सहयोग न करने वालों के घर पुलिस भेजने की प्रशासन की रणनीति बनने के दूसरे ही बानमोर में एक आंगनवाड़ी सहायिका के साथ मां-बेटे ने लातघूसों से मारपीट कर दी। शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाई और जान से मारने की धमकी दी।

By: Ravindra Kushwah

Published: 11 Sep 2021, 06:29 PM IST

मुरैना/बानमोर. कोविड टीकाकरण में सहयोग न करने पर सहायिका ने इसकी जानकारी तहसीलदार, सीएमओ व पुलिस को दे थी। आरोपी इसी बात से खफा थे और शनिवार को सुबह वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करने गई तो उसे घर के अंदर खींचकर मारपीट की।
पुलिस ने आंगनवाड़ी सहायिका वार्ड क्रमांक आठ प्रेमवती दौनेरिया की रिपोर्ट पर प्रकरण दर्ज किया है। दौनेरिया ने बताया कि शनिवार को सुबह 10 बजे वह कार्यकर्ता अनीता जाटव, धर्मराज जाटव व मनीष नाई के साथ सक्सेनापुरा नयागांव मोहल्ला में घर-घर सर्वे के लिए गए थे। जब रामखिलाड़ी गुर्जर के घर पहुंचे तो और वैक्सीनेशन करवाने के लिए कहा तो रामखिलाड़ी सभी को जातिसूचक अपशब्द कहते हुए बोला कि वैक्सीनेशन नहीं करवाएगा। जब अपशब्द कहने से रोका तो लात-घूसों से मारपीट की और जमीन पटक दिया। इससे उसके शरीर में जगह-जगह मूंदी चोटें आई हैं। बचाने आई कार्यकर्ता अनीता जाटव के साथ रामखिलाड़ी की मां कमला जाटव से चप्पलों से मारपीट की जिससे उसके भी शरीर में मूंदी चोटें आई हैं। यही नहीं आरोपियों ने सर्वे रजिस्टर एवं अन्य दस्तावेज भी फाड़ दिए। आरोपियों ने रिपोर्ट न करने के लिए भी धमकाया।
घटना के बाद थाना घेरा, तहसीलदार भी पहुंचे
इस घटना के बाद आसपास के सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका एकत्र होकर बानमोर थाने पहुंचीं और घेराव-प्रदर्शन आंदोलन किया। सुरक्षा की मांग करते हुए कार्यकर्ता व सहायिकाओं ने कहा कि उन्हें सुरक्षा की गारंटी दी जाए। उन्होंने कहा कि सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था न होने तक काम करने से भी इनकार किया। मामला तूल पकड़ते देख तहसीलदार, सीएमओ सियाशरण यादव एवं थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे और तुरंत रामखिलाड़ी गुर्जर और उसकी मां कमला के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। अधिकारियों ने 24 घंटे की मोहलत आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए मांगी।
क्या स्थिति है वैक्सीनेशन की
बानमोर में 26720 लोग कोरोना के खतरों से बचाव के लिए पात्रों की श्रेणी में शामिल है। इनमें से 22 हजार 623 लोगों को पहला डोज लगाया जा चुका है। 1 हजार 501 लोग शहर से बाहर बताए गए हैं। ऐसे में शेष शेष पूरा करने के लिए वैक्सीनेशन पर जोर दिया जा रहा है। शनिवार को बानमोर क्षेत्र में 1500 लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य रखा गया था।

Ravindra Kushwah
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned